100- 200 Words Hindi Essays, Notes, Articles, Debates, Paragraphs & Speech

सचिन तेन्दुलकर पर निबंध | Essay on Sachin Tendulkar in Hindi

सचिन तेन्दुलकर पर निबंध Essay on Sachin Tendulkar in Hindi: नमस्कार दोस्तों आज के निबंध में आपका स्वागत हैं. क्रिकेट के भगवान और मेरे प्रिय खिलाड़ी सचिन रमेश तेंदुलकर पर शोर्ट निबंध, भाषण, अनुच्छेद, जीवनी, बायोग्राफी इतिहास हिंदी में बता रहे हैं.

Essay on Sachin Tendulkar in Hindi

खेलों की दुनियां में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी बनना सपने के साकार होने समान हैं. परन्तु क्रिकेट भारत का एक लोकप्रिय खेल हैं इस खेल को भारत ने कई महान खिलाड़ी दिए है जैसे कपिल देव, अनिल कुंबले, महेंद्र सिंह धोनी, सचिन तेन्दुलकर आदि.

सचिन तेन्दुलकर विश्व के महान क्रिकेट खिलाड़ी हैं. इनका जन्म 24 अप्रैल 1973 को मुंबई में हुआ था. इनके पिता का नाम रमेश तेन्दुलकर था. उन्होंने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा मुंबई के ही श्रदाश्रम विद्या मन्दिर स्कूल में की.

उसी स्कूल की क्रिकेट टीम में जाकर अपने क्रिकेट के जीवन की शुरुआत की. उनके गुरु अर्थात कोच रमाकांत आचरेकर ने सचिन की प्रतिभा को पहचाना और छोटी सी आयु में उन्हें अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर बनाने की सोचकर उन्हें मेहनत करने को कहा.

सचिन शुरुआत में तेज गेंदबाज बनना चाहते थे. इसलिए वह एकेडमी में भी गये परन्तु एकेडमी के कोच ने उन्हें अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान केन्द्रित करने को कहा. तेन्दुलकर इस पर खरे उतरे और रात दिन एक करते हुए मेहनत करते रहे.

यही मेहनत और लग्न इन्हें दुनिया का प्रसिद्ध खिलाड़ी बना गई. इनकी मेहनत रंग लाई जब 18 दिसम्बर 1989 को उन्हें एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने का मौका मिला. उस समय सचिन की आयु मात्र 16 वर्ष ही थी.

और ये सबसे कम आयु में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर बनने का रिकॉर्ड अपने नाम किया. उस समय की गेदबाजी क्रम की सबसे घातक टीम पाकिस्तान के खिलाफ इन्होने अपना डेब्यू किया. सचिन दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं. फिर उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

और अपना दबदबा बनाए रखा. इस महान खिलाड़ी का अनुमान हम इस बात से लगा सकते है कि इन्होने टेस्ट क्रिकेट में चार बार मैं ऑफ़ दी मैच और दसियों बार मैंन ऑफ दी मैच रह चुके हैं. एकदिवसीय में इनके रिकॉर्ड तो बेमिसाल हैं. 

टेस्ट क्रिकेट और एकदिवसीय में सर्वाधिक रन, सर्वाधिक शतक तथा सर्वाधिक मैंन ऑफ़ दी मैच के रिकॉर्ड सचिन के नाम हैं. एकदिवसीय में पहला दोहरा शतक सचिन के बल्ले से ही निकला था. टेस्ट क्रिकेट में इनका सर्वाधिक स्कोर 248 हैं. 16 नवंबर 2013 के दिन बांग्लादेश के खिलाफ अपना सौ वाँ शतक लगाने के बाद सचिन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया. इन्होने मुंबई इंडियंस की ओर से आईपीएल खेला.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अपनी मूल्यवान राय दे