100- 200 Words Hindi Essays 2022, Notes, Articles, Debates, Paragraphs Speech Short Nibandh Wikipedia Pdf Download, 10 line

प्रकृति का महत्व पर निबंध Essay On Importance Of Nature In Hindi

प्रकृति के महत्व पर निबंध Essay On Importance Of Nature In Hindi - नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है, आज के हमारे आर्टिकल में आज के आर्टिकल में हम प्रकृति के महत्व के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करेंगे.

प्रकृति के महत्व पर निबंध Essay On Importance Of Nature In Hindi

प्रकृति के महत्व पर निबंध Essay On Importance Of Nature In Hindi

प्रकृति के बिना ना तो हम इंसानी जीवन की कल्पना कर सकते हैं ना ही पशु पक्षियों के जीवन की कल्पना कर सकते हैं, क्योंकि प्रकृति पर ही हमारा जीवन टिका हुआ है। प्रकृति के द्वारा हमें कहीं कहीं पर बंजर जमीन दी गई तो कहीं-कहीं पर जंगल भी दिए गए। इसके अलावा प्रकृति ही हमें हरियाली देने का काम करती है।


हमारे आसपास जो नदी, तालाब, समुद्र है, यह सभी प्रकृति के द्वारा दिए हुए हमें अनमोल उपहार हैं। इस पृथ्वी को सुंदर बनाने में सबसे ज्यादा योगदान प्रकृति का ही है। इसलिए हमें प्रकृति के महत्व को नजरअंदाज बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।


प्रकृति के द्वारा हमें जो पेड़ पौधे दिए गए हैं जो हरियाली दी गई है उसका हमें संरक्षण करना चाहिए और अधिक से अधिक वृक्षारोपण करके हमें प्रकृति को अपनी तरफ से भी उपहार देना चाहिए। हम अपने आसपास जो भी हरियाली देखते हैं अथवा जो भी पहाड़ देखते हैं यह सभी प्रकृति के द्वारा ही हमें दिए गए होते हैं।


समय-समय पर हमें जो सर्दी, बरसात और गर्मी जैसे मौसम का सामना करना पड़ता है यह भी प्रकृति की ही देन है। हमारे जीवन के लिए उपयोगी सूरज, पेड़-पौधे, हवा, भोजन, जल इत्यादि हमें प्रकृति से ही हासिल होती है। कभी-कभी जब इंसानों के द्वारा प्रकृति से खिलवाड़ किया जाता है तो प्रकृति अपना भयानक स्वरूप दिखाती है। 


इंसान जब पेड़ पौधों का अवैध कटान करता है तो इसके परिणाम स्वरूप प्रकृति के द्वारा हमें भीषण गर्मी का सामना करवाया जाता है वहीं प्रकृति से खिलवाड़ करने पर कभी कभी इंसानों को भयंकर प्राकृतिक आपदा का भी सामना करना पड़ता है।


यह प्रकृति के साथ खिलवाड़ करने का ही अंजाम है कि हमें हर साल भीषण से भीषण गर्मी का सामना गर्मियों के मौसम में करना पड़ता है। 


जिस प्रकार से इंसानों की जनसंख्या बढ़ रही है, इंसान अपने रहने की जगह को तैयार करने के लिए भारी मात्रा में पेड़ काट रहा है। इससे पेड़ की संख्या भी धरती पर कम हो रही है और हरियाली में भी कमी आ रही है।


बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों से जो धुआ निकल रहे हैं उन धुएं की वजह से भी प्रकृति को अत्याधिक नुकसान हो रहा है। वातावरण मे फैलने वाले धुए की वजह से इंसानों को कई गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए अगर हमें गंभीर बीमारियों से अपने आप को बचाना है तो हमें प्रकृति को भी बचाना होगा।


प्रकृति का संतुलन बनाने के लिए हमें अत्याधिक मात्रा में पेड़ पौधे लगाने चाहिए। इसके अलावा हमें जल संरक्षण को भी बढ़ावा देना चाहिए साथ ही पेड़ों की अवैध कटाई को रोकने का भी प्रयास करना चाहिए। 


इसके अलावा हमें समुद्र और जलाशय को गंदा करने से भी बचना चाहिए साथ ही बंजर जमीन को उपजाऊ बनाने का प्रयास करना चाहिए। हमें आज ही यह प्रण लेना चाहिए कि हम अपनी प्रकृति के साथ किसी भी प्रकार का खिलवाड़ नहीं करेंगे ना ही किसी को करने देंगे।


प्रकृति का महत्व

हमारे जीवन की मुलभुत आवश्यकता वायु है. इसके बिना हम अपना जीवन नहीं जी सकते है. तथा हमारे स्वास्थ्य के लिए प्रकृति की गोद में आवास का होना आवश्यक है.

प्रकृति के अभाव में हमारा कोई अस्तित्व ही नहीं होता है. प्रकृति हमें सबकुछ देती है. प्रकृति हमें बड़ी से बड़ी समस्या से हमारी सुरक्षा प्रदान करती है. इस संसार में हम जन्म से लेकर मृत्यु तक प्रकृति के सहारे ही जीवन जीते है.

जब व्यक्ति की मृत्यु होती है, तो उसका अंतिम संस्कार भी प्रकृति की गोद में किया जाता है. प्रकृति हमारा जीवनभर साथ देती है, पर हम अपने स्वार्थी जीवन में उलझे अपने इस मित्र की रक्षा करने की बजाय इसे नुकसान पहुंचाते है. 

जो हमारे लिए तथा हमारे आने वाले भविष्य के लिए खुद के पैर पर कुलाड़ी मारने के समान है. इसलिए हमें प्रकृति के प्रति सचेत होकर इसकी रक्षा करनी चाहिए. प्रकृति का प्रत्येक संसाधन हमें सहायता करता है.

आज बड़ी बड़ी नदिया जो हमें पीने का जल प्रदान करते है. उसे हम प्रदूषित कर रहे है. जिस कारण उस नदी का जल अपेय हो जाता है. साथ ही उसमे रहने वाले जीवो का अस्तित्व भी खतरे में है.

सबसे बड़ा दुःख यह है, कि हमारी प्राणवायु के लिए आवश्यक पेड़ पौधों को भी तेजी से काटा जा रहा है. तथा वन भूमि को कृषि भूमि में बदला जा रहा है. जिससे प्रकृति को क्षति के साथ ही प्राकृतिक जीवो को भी अपना आवसा खोना पड़ता है.

आज हर मिनट सैकड़ो एकड़ वन क्षेत्र को काटा जा रहा है. जो हमारे लिए अन्धकार का संकेत है. प्रकृति का सुनहरा दृश्य जीवन को उज्ज्वल बना देता है. पर हम इसके महत्व को नहीं समझ पा रहे है.

प्रकृति के महत्व को कोरोना महामारी ने बहुत बेहतर ढंग से समझाया जब लोगो को वायु नहीं मिल रही थी, जिस कारण उनका जीवन खतरे में था. 

ये भी पढ़ें

म्मीद करता हूँ, दोस्तों आज का हमारा लेख प्रकृति के महत्व पर निबंध Essay On Importance Of Nature In Hindi आपको पसंद आया होगा, यदि लेख अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.