100- 200 Words Hindi Essays 2021, Notes, Articles, Debates, Paragraphs & Speech Short Nibandh Wikipedia

मोबाइल की लत पर निबंध Essay on Mobile Addiction in Hindi

 मोबाइल की लत पर निबंध  Essay on Mobile Addiction in Hindi

आज के जमाने मे सभी लोगों के पास एक मोबाइल फोन उपलब्ध है। यदि हमारे पास से फोन को छीन लिया जाता है। तो हमे लगता है। कि जैसे हमारे शरीर पर किसी ने घाव मारा हो। इन उदाहरणो से हम अनुमान लगा सकते है। कि हमारे लिए मोबाइल फोन कितना अहमियत रखता है। मोबाइल के बिना लोग 1 घंटे तक भी नहीं रह पाते है। प्रत्येक व्यक्ति जो मोबाइल फोन रखता है। वो शाम को आधे समय तक ही सोता है। तथा सुबह उठते ही फोन को देखता है।

मोबाइल की लत पर निबंध  Essay on Mobile Addiction in Hindi

  परिचय

 मोबाइल हमारे जीवन को बर्बाद कर देता है। साथ ही हमारे जीवन के महत्वपूर्ण समय को बर्बादी भी करता है। हम महसूस भी नहीं कर पाते है। कि हमने कितने समय तक  मोबाइल को देखा आज के जमाने के लोग सबसे ज्यादा अपना समय  मोबाइल मे सोशल मीडिया पर तथा गेम खेलने मे अपना समय बर्बाद करते है।

मोबाइल हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग बन चुका है। जब हमारे पास मोबाइल हो तब हम अपने सभी महत्वपूर्ण कार्यो को अधूरा छोड़ कर मोबाइल मे लग जाते है। आज के लोगो के लिए  मोबाइल एक बीमारी बन चुकी है। खुद को  मोबाइल से दूर रखना बहुत बड़ी बात है।

मोबाइल बड़े, बुजुर्ग तथा सबसे ज्यादा मोबाइल का प्रयोग छोटे बच्चे करते है। मोबाइल एक बहुत ही बड़ी लत है। या इसे हम एक हानिकारक नशा भी कह सकते है।  

 मोबाइल का अविष्कार

आप सभी के मन मे सवाल जरूर बनता होगा कि मोबाइल फ़ोन का आविष्कार किसने व कब किया था। आपको जानकारी के लिए बता दें। मोबाइल फोन का मार्टिन कूपर तथा उनकी सम्पूर्ण टीम ने मिलकर सन 1973 मे किया था।

इस पहले मोबाइल का वजन 2 किलोग्राम था। जो कि आज के लोगो के लिए समान्य है। पहले मोबाइल बहुत ही महंगे हुआ करते थे। इसलिए हमारे पूर्वज मोबाइल को नहीं खरीद सकते थे। समय के साथ आज सभी लोग इसे आसानी से खरीद सकते है।

मोबाइल फ़ोन के लाभ

मोबाइल फ़ोन संचार का सबसे अच्छा माध्यम माना जाता है। ये कम तथा ज्यादा मूल्य मे भी उपलब्ध होता है। मोबाइल के जरिये घर बैठे प्रत्येक न्यूज़ को आसनी से सुन सकते है। मोबाइल मनोरंजन का महत्वपूर्ण साधन माना जाता है। 

मोबाइल के माध्यम से हम हमारे परिवार तथा अपने दोस्त से बात कर सकते है। तथा उनसे जुड़े रह सकते है। मोबाइल फोन से हम अपनी पढ़ाई भी कर सकते है। मोबाइल से हम घर बैठे टिकट बुकिंग, शॉपिंग, मोबाइल बैकिंग तथा लाईट बिल भूकतान भी कर सकते है। यहा तक कि हम मोबाइल से हम खरीददारी तथा मजदूरी भी कर सकते है।  

मोबाइल फ़ोन के हानि

मोबाइल मे कई सोशल मीडिया एप्लिकेशन उपलब्ध है। जिसमे- वॉट्सएप, फेशबुक, इन्टाग्राम, ट्विटर आदि। पर अपना अमूलय समय लगा देते है। पूरे दिन इन एप्लिकेशन पर दोस्तो के साथ बाते करते रहते है। पूरे दिन 

मोबाइल का प्रयोग करने से हमारे शरीर मे अनगिनत रोग उत्पन हो जाते है। जिसमे- आँखों का कमज़ोर होना, सिर दर्द, कम सुनाई देना, तनाव, अनिंद्रा, याद रखने की क्षमता कम होना आदि रोग होने की संभावना रहती है। 

मोबाइल के ज्यादा प्रयोग से हमारे जीवन मे बहुत गहरा प्रभाव देखने को मिलती है। सुबह उठने से पहले मोबाइल देखने की आदत बन जाती है। वर्तमान मे लोग मोबाइल फोन का प्रयोग गाड़ी चलाते समय भी करते है। जिससे दुर्घटना होने की संभवना रहती है। 

मोबाइल की अधीनता

भारत पूर्व मे अंग्रेज़ो का अधीन हुआ करता था। तथा वर्तमान मे मोबाइल फोन का अधीन बन चुका है। मोबाइल सभी के लिए एक लत बन चुकी है। जब मोबाइल पास मे होता है। तब हमे अपने जीवन के अच्छे-बुरे का अनुभव नहीं होता है। 

मोबाइल के लिए लोग किसी की जान भी ले सकते है। तथा जान दे भी सकते है। लोग ये सोचते है। कि हम मोबाइल का प्रयोग करते है। तो ये गलत है। आप मोबाइल का प्रयोग नहीं करते है। बल्कि मोबाइल आपका प्रयोग कर रहा है।

निष्कर्ष

मोबाइल फोन के प्रयोग से हमे बहुत ही ज्यादा हानिया होती है। हमे कई रोगो का सामना करना पड़ता है। साथ ही हमारे जीवन मे उपयोगी तथा अनमोल समय की बर्बादी करते है। मोबाइल का प्रयोग ही जीवन की बर्बादी है। इसलिए हमे अपने जीवन मे मोबाइल का प्रयोग नहीं करना चाहिए।


अनुरोध 

उम्मीद करता हूँ। दोस्तों मोबाइल की लत पर निबंध Essay on Mobile Addiction in Hindi का यह लेख आपकों पसंद आया होगा, यदि आपकों मोबाइल की लत पर निबंध आपके लिए प्रेरणादायक रही हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।