100- 200 Words Hindi Essays 2021, Notes, Articles, Debates, Paragraphs & Speech

डॉक्टर पर निबंध Essay on Doctor in Hindi

नमस्कार आज हम डॉक्टर पर निबंध Essay on Doctor in Hindi का सरल निबंध लेकर आए हैं. हमारे जीवन में चिकित्सक का महत्वपूर्ण स्थान होता हैं. एक समाज सेवक के रूप में वह हमारे मुश्किल समय में स्वास्थ्य का इलाज करता हैं. आज का भाषण, निबंध पैराग्राफ हमारे चिकित्सकों के बारे में हैं. छोटी कक्षाओं के स्टूडेट्स इसे आसानी से याद कर सकते हैं.

डॉक्टर पर निबंध Essay on Doctor in Hindi

डॉक्टर एक चिकित्सक का व्यवसायी होता है। जो मरीजो की जांच कर इलाज करता है। डॉक्टर हमारे समाज का एक अभिन्न अंग होता है। चिकित्सक हमारे लिए भगवान होते है। विभिन्न क्षेत्रो से अलग-अलग इलाज के अलग-अलग डॉक्टर होते है। 

डॉक्टर विज्ञान की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण होते है। चिकित्सक बनने के लिए बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। डॉक्टर अलग-अलग पेशे के होते है। कई डॉक्टर प्राइवेट भी होते है। जो अपना कोई मेडिकल या अस्पताल खोलकर आय भी कमाते है।

डॉक्टर पर निबंध Essay on Doctor in Hindi


डॉक्टर जीवन उद्धारकर्ता हैं

इस संसार के हर व्यक्ति को डॉक्टर की जरूरत पड़ती है। वर्तमान समय मे कई नए-नए रोग फैले हुए है। जो कि हमारी सोच से बाहर है। हम जब बीमार हो जाते है। तो हम अपना इलाज कराने के लिए चिकित्सक के पास जाते है। यदि हम समय रहते किसी  डॉक्टर के पास नहीं जा पाते है। तो व्यक्ति की मौत तक हो सकती है। इस प्रकार हम  डॉक्टर के पास पहुँचकर समय पर दवाईया लेकर अपने जीवन को बढ़ा देते है। इसी कारण  चिकित्सक को दूसरा भगवान माना जाता है।


हमारे देश मे पुराने समय मे चिकित्सा नहीं होते थे। जिसके कारण दवाईया नहीं मिल पाती थी। और ज़्यादातर लोग बीमारियो की वजह से मर जाते थे। इसके बाद धीरे-धीरे चिकित्सा का उदभव हुआ। और हर बीमारी की दवाइयो को  चिकित्सकों ने खोज निकाला और अनेक लोगो की जान बचाने मे समर्थ रहे। 


ऐसा  डॉक्टरो के चलते ही हो पाया है। आज हमारे देश मे हर जगह चिकित्सा की व्यवस्था की गई है। जिसके कारण हम राहत से अपना जीवन व्यतीत कर रहे है। क्योकि हर बीमारी का इलाज संभव है।


एक योग्य डॉक्टर कैसे बने?

आज के विद्यार्थियो की सबसे ज्यादा रुचि डॉक्टर के पेशे मे होती है। हर कोई डॉक्टर बन लोगो की सेवा करना चाहता है। डॉक्टर बनने आसान काम नहीं है। इसके लिए कठोर मेहनत करनी पड़ती है। डॉक्टर बनने का सपना जिसका बचपन से ही होता है। 


वह डॉक्टर बन सकता है। डॉक्टर बनने के लिए 11वीं और 12वी कक्षा मे भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान विषयो का अध्ययन करना जरूरी है। साथ ही हर साल न्यूनतम प्रतिशत भी निर्धारित किए जाते है। अपने 12वी के प्रतिशत तथा कॉलेज मे प्रवेश परीक्षा मे अंको के आधार पर कॉलेज मे दाखिला दिया जाता है।


हमारे जीवन मे चिकित्सक का महत्व 

हमारे इस अनमोल जीवन मे हमे हर व्यक्ति की जरूरत होती है। हम कई बार बीमार हो जाए है। बीमार हो जाने पर हमारे स्वास्थ्य पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है। बीमार होने पर हम मरे हुए व्यक्ति के समान बन जाते है। इस परस्थिति मे हमारे स्वास्थ्य को ठीक करने वाले डॉक्टर ही होते है। डॉक्टर हमे निशुल्क दवाईया देते है। और हमे हर बीमारी से जीता देते है। ईमानदार चिकित्सक भगवान के तुल्य होते है। हमे चिकित्सकों का सम्मान करना चाहिए।


प्राचीन भारत में चिकित्सा पद्धतियां

हमारे देश मे चिकित्सा की कला बहुत पुराने समय से चली आ रही है। प्राचीन भारतीय शल्य शिक्षक शास्त्रीकर्मा को कहा जाता है। ये आयुर्वेद के मुख्य आठ शाखाओ मे से एक है। भारत के सबसे प्राचीन चिकित्सक शुश्रुत, चरक और अटराय थे। जिन्होने हमारे देश मे चिकित्सा की नीव रखी इसके बाद लोग चिकित्सा से जुडते रहे और 

आज हमारे देश मे सबसे बड़ी नौकरी डॉक्टर की है। पुराने समय मे पर्याप्त साधन न होने के कारण आयुर्वेदिक दवाईया बनाकर इलाज करते थे। आज भी आयुर्वेदिक दवाइयो का प्रयोग किया जाता है। आयुर्वेदिक दवाईया पेड़-पौधो से प्राप्त की जाती है। जिसे जड़ी-बूटियों और हर्बल यौगिकों से बनाया जाता है।


मेडिकल व्यवसाय और डॉक्टरों के स्तर में गिरावट

हमारे देश मे तकनीकी चिकित्सा मे बहुत विकास हुआ है। हमारे देश मे चिकित्सा से सबन्धित मुद्दे मे भी काफी उन्नति हुई है। हमारे देश मे सबसे बड़ा व्यवसाय चिकित्सा ही है। और सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार भी इसमे ही होता है। लोगो की मजबूरी का फायदा उठाते है। 


और लोगो को छोटी-सी बीमारी को बड़ी बीमारी सुनाकर बहुत ही ज्यादा पैसा वसूल करते है। हालांकि ये कार्य सभी डॉक्टर नहीं करते है। परंतु अधिकांश डॉक्टर लोगो को लूटने की सोच मे ही रहते है। भारत के प्रत्येक नागरिकों के पास राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा प्रणाली होनी चाहिए। जो कि आज अधिकांश लोगो के पास नहीं है। 


सरकार द्वारा अस्पतालों और नर्सिंग होम की स्थापना तो की जाती है। परंतु इसकी देखभाल नहीं की जाती है। इस पर सरकार के साथ डॉक्टर को भी ध्यान देना चाहिए। लोगो को आवश्यकता से अधिक समय तक अस्पताल मे रखा जाता है। और उनसे किराया वसूल किया जाता है। 


मेडिकल पर लोगो की मजबूरी के चलते दवाइयो को दुगुनी रेट मे बेचते है। आज के समय मे मेडिकल सबसे बड़ा व्यवसाय का तरीका है। ये लोगो को बड़ी बीमारी का सुनाकर अधिक पैसा वसूल कर लेते है। इसके अलावा अंग तस्करी निरंतर बढ़ती जा रही है। 


अमीर लोगो के इलाज के लिए चिकित्सक को बहुत ज्यादा पैसे  दिये जाते है। जिससे पैसो के लालच मे आकार डॉक्टर किसी गरीब को बिना जरूरत ओपरेसन कर उनके अंग चुरा लिए जाते है। और अंग तस्करी की इस बुरी प्रथा को बढ़ावा दिया जाता है।

क्या हम डॉक्टरों पर विश्वास कर सकते हैं?

निजी (प्राइवेट) अस्पताल तथा नर्सिंग या मेडिकल व्यवसायो का प्रमुख उद्देश्य पैसे कमाने का होता है। वे ऐसा कार्य करते है। जिससे उन्हे पैसे मिले उन्हे जनता की कोई प्रवाह नहीं होती है। वे अपनी मजदूरी के लिए धोकधड़ी करते है। भारत मे हर जगह अस्पताल होने के बावजूद लोग निजी मेडिकल पर जाते है।


मेडिकल वाले बढ़ा चढ़ाकर अनावश्यक दवाईया देते है। जिससे लोगो से बहुत ज्यादा पैसा लूटते है। इसलिए हमारे हर गाँव मे सरकारी अस्पताल बना हुआ है। हमे  अपने अस्पताल मे जाकर चिकित्सक से दवाईया लें। हमे मेडिकल या प्राइवेट अस्पताल पर बिलकुल भी भरोसा नहीं करना चाहिए। क्योकि वह अपना व्यवसाय करते है। उन्हे हमारे स्वास्थ्य की कोई प्रवाह नहीं होती है। 


यदि आप सरकारी  अस्पताल मे जाते है। और वहा से दवाईया लाते है। तो आप बिलकुल विश्वास कर सकते है। क्योकि सरकारी अस्पताल मे डॉक्टरो को सरकार नौकरी के पैसे देकर उन्हे हमारे लिए अस्पताल मे बैठाते है। हमारे लिए सरकार चिकित्सक को पैसे देती है। और नि शुल्क दवाईया उपलब्ध कराती है। 


इसके बावजूद हम मेडिकल या निजी अस्पताल मे जाकर हमारे सरकार और सभी चिकित्सकों का अपमान करते है। इसलिए हमे हमारे लिए बनाए गए अस्पताल तथा हमारे लिए लगाए गए डॉक्टरो के पास जाए और अपना इलाज कराये जिससे हमारे पैसो की भी बचत होगी। और हमे किसी भी प्रकार की धोकधड़ी का कोई डर नहीं रहेगा।


डॉक्टर एक समाजसेवक निबंध Doctor ek samaj sevak essay in hindi

हमारे देश में अनेक सरकारी नौकरिया है. जिसमे लोगो की सेवा करने का मौका मिलता है. जिसमे कई लोग किसान बनकर खेती कर समाज की सेवा करते है. तो कई सेना में जाकर देश की रक्षा करते है. कई वकील बनकर लोगो को न्याय दिलाते है. और कई शिक्षक बनकर बच्चो को ज्ञान देकर समाज सेवक बनते है. इसी प्रकार समाज सेवा का सबसे श्रेष्ठ तरीका डॉक्टर का है. हर व्यक्ति को डॉक्टर की जरुरत पड़ती है. डॉक्टर को भगवान माना जाता है. सबसे ज्यादा सम्मान भी डॉक्टर को दिया जाता है. क्योकि वे लोगो की जान बचाने लोगो को रोगों से बचाने के लिए 24 तत्पर रहते है.


डॉक्टर मरते हुए व्यक्ति को भी बचा सकता है. जिसकी कोई उम्मीद ही नहीं होती है. ऐसे कई उदहारण है. जिसमे मरे हुए के सामान व्यक्ति को डॉक्टर ने जीवित कर दिखाया इसलिए तो डॉक्टर को दूसरा भगवान कहा जाता है. डॉक्टर इ सबसे ज्यादा लाभ गरीब एंव पिछड़े लोगो को होता है. जिनकी आर्थिक स्थति बहुत ख़राब होती है. वे अपने परिवार के सदस्य को दवाइया दिलाने के लिए भी अनुकूल नहीं होते है. पर डॉक्टर के चलते आज गरीब भी अपना इलाज करने में सक्षम है. डॉक्टर बिना किसी शुल्क के दवाइया देता है. इस प्रकार डॉक्टर समाज की तकलीफों को दूर करता है. और समाज सेवक बनता है.


हर व्यक्ति आज अपनी नौकरी में भ्रष्टाचार फैलता है. अपने स्वार्थ को सिद्ध करता है. पर डॉक्टर कभी-भी गद्दारी नहीं करते है. वे हमेशा ईमानदारी तथा परोपकारी होते है. पर कई डॉक्टर भी होते है. जो लोगो को लुटते है. पीड़ित व्यक्तियों से अनगिनत पैसा वसूल करते है. पर हम ऐसे कुछ ही लोगो के लिए सभी ईमानदार डॉक्टरो  को हम बदनाम नहीं कर सकते है.पर जो अपनी ईमानदारी और निस्वार्थ भाव से लोगो की सेवा करते है. उन्हें भगवान का दर्जा दिया जाता है. साथ ही उन्हें अपनी ईमानदारी और कर्तव्य निष्ठ के लिए उपहार भी दिये जाते है.


आज कोरोना महामारी के इस भयानक काल में भी डॉक्टर एपीआई जान को जोखिम में डालकर लोगो की सेवा करते है. तथा उन्हें उचित दवाइया देते है. इससे बढ़कर क्या हो सकता है. कि एक डॉक्टर हमारे लिए आज इस महामारी में भी सेवा के लिए 24 घंटे तैयार रहता है.


यदि आप अपने जीवन में कुछ ऐसा करना चाहते है. जिससे समाज की सेवा की जा सकें. और अपनी प्रसिद्धी भी हो तो इसके लिए डॉक्टर सबसे उचित है. आप डॉक्टर बनकर लोगो को निशुल्क औषधीय देकर लोगो की सेवा कर सकते है. इस दुनिया में सबसे कीमती चीज लोगो के प्राण ही है. यदि आप इस प्रकार समाज की  सेवा करते है. तो ये सबसे बड़ी सेवा है. वास्तव में मै भी मानता हूँ. कि डॉक्टर सबसे श्रेष्ठ समाज सेवक होता है. और हमारा सभी से यही अनुरोध है. कि ज्यादा से ज्यादा डॉक्टर बने और समाज की सेवा करें. और अपना नाम रौशन करें.


यदि आप वास्तव में डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आपका सपना पैसे कमाने का ना होकर समाज सेवा का ना होना चाहिए अन्यथा डॉक्टर  बनने पर भी समाज सेवक नहीं बन सकते। जो डॉक्टर लोगों की सेवा करता है इमानदारी  से कार्य करता है बिना मतलब किसी से पैसा वसूल नहीं करता है वास्तव में वही सच्चा समाज सेवक होता है। डॉक्टर बनने वाले को सिर्फ लोगों की सेवा करना है उनका लक्ष्य होना चाहिए अथवा पैसे कमाने के लिए अनेक भी तरीके हैं जो लोगों की सेवा करने में रुचि रखता है वही डॉक्टर  बने तो उचित होगा।


डॉक्टर भी कई प्रकार के होते हैं कई डॉक्टर ऐसे होते हैं जो समाज सेवा में रुचि रखते हैं और समाज की निस्वार्थ भाव से सेवा करते हैं गांव में कैंप लगाकर लोगों को निशुल्क दवाइयां देते हैं।और कुछ डॉक्टर ऐसे भी होते हैं जो अपने लालच को पूरा करने के लिए लोगों से पैसा वसूल करते यही उनका प्रमुख लक्ष्य होता है ऐसे लोगों को हम डॉक्टर कह ही नहीं सकते यह तो लुटेरे होते हैं ऐसे लोगों को डॉक्टर कहना डॉक्टरों के लिए कलंक के बराबर है।


अतः हम कह सकते हैं कि जो लोग सच्चे मन से ईमानदारी निष्ठा तथा निस्वार्थ भाव से समाज की सेवा करते हैं उपहार देकर उनका इलाज करते हैं वही सच्चे समाज सेवक और डॉक्टर कहलाते हैं|


भारत का सबसे श्रेष्ठ पेशा कहे तो वह डॉक्टर होता है जो हर समय समाज की सेवा करता है समाज की देखरेख करता है तथा वह किसी भी परिस्थिति में पीछे नहीं हटता है हर समय समाज सेवा उनका लक्ष्य होता है डॉक्टर हमारे देश के विकास के लिए सबसे महत्वपूर्ण होते हैं डॉक्टर के चलते ही लोग स्वस्थ रह पाते हैं.


समाज को पहला सुख डॉक्टर ही देते हैं कहते हैं पहला सुख निरोगी काया। और काया को निरोगी करने वाला डॉक्टर ही होता है। इसलिए हमें डॉक्टरों का सम्मान करना चाहिए वह हर समय हमारी सेवा करते हैं कभी  अवसर मिले तो हमें भी डॉक्टरों की सहायता करनी चाहिए। जो हमारी सहायता करें उसकी सहायता करना हमारा प्रथम कर्तव्य है।


Short Essay on Doctor in Hindi// Doctor Par Nibandh Hindi Me

मानव जीवन  के स्वस्थ होने के लिए डॉक्टर का होना बहुत ही महत्वपूर्ण है डॉक्टर को मानव का भगवान का भी दर्जा दिया जाता है हमारे देश में चिकित्सा की अच्छी सुविधा उपलब्ध है हमारे देश में विश्व के  प्रतिभाशाली डॉक्टरों में हमारे देश के डॉक्टरों को गिना जाता है। हमारे देश में चिकित्सा व्यवस्था काफी पुराने समय से चलती आ रही है। हमारे देश में  आज भी नए-नए अस्पतालों नर्सिंग होम का निर्माण किया जा रहा है इसका मुख्य उद्देश्य लोगों की सेवा ही है। डॉक्टर को वेद भी कहा जाता है


डॉक्टर अपने संपूर्ण जीवन में लोगों का इलाज करता है तथा उनकी स्वच्छता को ध्यान में रखता है। डॉक्टर हमारी बड़ी से बड़ी बीमारियों से हमारी रक्षा करता है हमें दवाइयां देता है तथा रोगों से मुक्त करता है। हमारे देश में पिछले कई दशकों से नई नई बीमारियां पनपती नजर आ रही है पहले मलेरिया पीलिया तथा फ्लेक्स डेंगू जैसी बीमारियों का सामना करना पड़ रहा था और अब कोरोना जैसी महामारी मैं भी डॉक्टर हमारी सहायता कर रहे हैं अपनी जान को जोखिम में डालकर हमारी सेवा में लगे हुए हैं। 


डॉक्टर हमेशा मरीजों मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार करते हैं तथा उनकी स्थिति के हिसाब से उनको दवाइयां देते हैं तथा डॉक्टर हमेशा अपने मरीजों के प्रति सकारात्मक सोच रखता है वह उसे बीमारी से ठीक करने की सोच रखता है हमारे देश में डॉक्टर मरीजों को और समाज के लोगों को दवाइयां ही नहीं देते बल्कि मानवता को भी बढ़ावा देते हैं इसीलिए तो भारत को महान देश कहा जाता है यहां हर लोग मानवता को समझते हैं एक दूसरे की सहायता करते हैं यह भारत की एक परंपरा है। 


भारतीय डॉक्टर अपनी प्रतिभा और इमानदारी के लिए पूरे विश्व में विख्यात है इसीलिए भारतीय डॉक्टर विश्व के हर देश में  कार्यरत हैं हमारे देश में डॉक्टर मरीजों का इलाज कई  पद्धतियां के द्वारा करते हैं जिसमें पुरानी पद्धतियों  तथा नवीनतम पद्धतियां शामिल है


डॉक्टर को हमेशा निर्मल और उदार रहना पड़ता है डॉक्टर कभी गुस्सा नहीं करते हैं डॉक्टर कभी गुस्सा नहीं करते हैं  डॉक्टर  कल्याणकारी होते हैं


उम्मीद करता हूँ दोस्तों डॉक्टर पर निबंध Essay on Doctor in Hindi का यह लेख आपकों पसंद आया होगा, यदि आपकों इस लेख में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.