100- 200 Words Hindi Essays 2022, Notes, Articles, Debates, Paragraphs Speech Short Nibandh Wikipedia Pdf Download, 10 line

कर्नाटक पर निबंध Essay On Karnataka In Hindi

कर्नाटक पर निबंध Essay On Karnataka In Hindi हमारा देश एक विशाल देश है. इसमे 28 राज्य है. जो अपनी अपनी खासियत के लिए काफी प्रसिद्ध है. उन्ही में से एक राज्य है. कर्नाटक आज के आर्टिकल में हम कर्नाटक के बारे में निबंध पढेंगे.

कर्नाटक पर निबंध Essay On Karnataka In Hindi

कर्नाटक पर निबंध Essay On Karnataka In Hindi
कर्नाटक भारत का एक सुन्दर तथा विशाल राज्य है. जो अपनी कृषि तथा उत्पादों के लिए काफी प्रसिद्ध है. भारत का ये राज्य कृषियोग्य राज्यों में से एक है. यहाँ के अधिंकाश लोगो की आमदनी कृषि ही है.

कर्नाटक राज्य का को महान राज्य कहते है. क्योकि कर्नाटक शब्द का अर्थ महा राज्य ही होता है. और वास्तव में ये एक महान राज्य है. जहा हर सुविधा मिलती है.

कर्नाटक राज्य की राजधानी बैंगलोर है. जो कर्नाटक का सबसे श्रेष्ठ शहर है. कर्नाटक की राजधानी बैंगलोर आईपीएल का टीम भी है. जिसका पूरा नाम रॉयल चेलेंजर बैंगलोर है.

कर्नाटक की राजभाषा कन्नड़ है. यहाँ के अधिकांश लोग कन्नड़ ही बोलते है. पर कई लोग उर्दू,तमिली,तेलगु, हिंदी और अंग्रेजी भाषा भी बोलते है.

यहाँ का लोकनृत्य 'यक्षगान' और 'गुल्लू कुनिथा' है, जो यहाँ पर होने वाले कार्यक्रम या विवाह में बड़ी धूमधाम के साथ किया जाता है. ये नृत्य यहाँ का सबसे लोगप्रिय नृत्य है.

कर्नाटक का लोकगीत कर्णाटीक संगीत है, जो भारतीय संगीत तथा विरासत का को सहारा देती है. यहाँ का लोकगीत पुरे भारत में प्रसिद्ध है. कर्णाटक से अनेक संगीतकार हुए है. चित्रवीणा कर्नाटक का प्रसिद्ध वाद्ययंत्र है. जिसका उपयोग हर भारतीय संगीतकार करता है.

कर्नाटक का भोजन बहुत प्रसिद्ध है, यहाँ डोसा, इडली, सांभर के साथ साथ चावल भी खाए जाते है. तथा दही, नारियल, इमली एंव टमाटर को मिलाकर भोजन किया जाता है, जो काफी स्वादिष्ट होता है.

भारत के दक्षिणतम हिस्से में बसे इस प्रदेश की संस्कृति, प्रकृति तथा ऐतिहासिक धरोहर इसे सबसे अलग राज्य बनाती है. इस राज्य का नाम आजादी से पूर्व मैसूर हुआ करता था. पर राज्य नामकरण करने पर १९७३ में इसका नाम मैसूर से कर्नाटक कर दिया.

1 नवम्बर 1956 को कर्नाटक भारत का एक राज्य बना. इसकी राजधानी बैंगलोर को बनाया गया. जो इसकी आन बाण शान है. बैंगलोर कर्नाटक का सबसे बेहतर पर्यटन स्थल है.

कर्नाटक में अनेक पर्यटन स्थल है. जिनमे बेंगलुरु,हम्पी,मैसूर,मदिकेरी,वयनाड,मैसूर पैलेस,लालबाग बोटैनिकल गार्डन,बन्नेरघट्टा बायोलॉजिकल पार्क,श्री विरूपाक्ष टेम्पल, तथा बेंगलुरु पैलेस प्रमुख है.

भारत के इस राज्य का क्षेत्रफल 191,791किलोमीटर है. जहाँ इसकी जनसंख्या लगभग 7 करोड़ है. कर्नाटक की कार्यकारी शाखा बैंगलोर में स्थित है. कर्नाटक के गर्वनर थावरचंद गहलोत है.

कर्नाटक के बारे में जानकारी

कर्नाटक राज्य पश्चिम में अरब सागर उत्तर-पश्चिम में गोवा, उत्तर में महाराष्ट्र, पूर्व में आंद्रप्रदेश,दक्षिण पूर्व में तमिलनाडु तथा दक्षिण में केरल से जुड़ा हुआ है.

कर्नाटक में वर्तमान में 30 जिले है. तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से कर्नाटक भारत का छठा सबसे बड़ा राज्य है. यहाँ की सबसे बड़ी नदिया कावेरी, तुंगभद्रा, कृष्णा, मलय प्रभा तथा शरावती है.

कर्नाटक में अनेक पहाड़ है. पर यहाँ का सबसे श्रेष्ठ तथा ऊँचा शिखर चिकमंगालूर जिले में स्थित मुल्लयन गिरी पर्वत है. जो यहाँ का सबसे बेहतर पर्वत है.

इस राज्य को भोगोलिक रूप से चार भागो में बांटा गया है. जिसमे पहला समुद्र तटीय क्षेत्र, दूसरा मलमाड़, तीसरा उत्तरी मैदान और चौथा दक्षिणी मैदान है. जो इसे चार भागो में विभाजित करता है.

कर्नाटक को कर्णाटक भी कहते है. कर्नाटक की वेशभूषा सिल्क साड़ी और धोती है, जो यहाँ की पहचान है. इस राज्य में लगभग 70 प्रतिशत लोग कन्नड़ भाषा बोलते है.

कर्नाटक अनेक विचारको, दार्शनिको,भाट,कवियों, लेखको,सामाजिक, साहित्यिक,ऋषि मुनियों तथा समाज सुधारको की भूमि है. इस भूमि से अनेक क्रिकेटरो ने जन्म लिया है.

कर्नाटक का राज्य पशु हाथी है. इसलिए यहाँ हाथी बहुयात संख्या में पाए जाते है. हाथी के साथ साथ यहाँ भेड़ बकरी तथा गाय भैंस आदि का पालन भी किया जाता है. यहाँ का राज्य पक्षी नीलकंठ है.

कर्नाटक का राज्य वृक्ष चंदन की लकड़ी है. जिसे आज सोने से भी महँगी मानी जाती है. पर यहाँ पर चन्दन के वृक्ष भी देखने को मिलते है. तथा सागौन, शीशम और काजूरीना आदि वृक्ष भी यहाँ देखे जा सकते है.

आज हमारे देश की जनसँख्या लगातर बढ़ रही है. जिस कारण हमारे देश में परिवार नियोजन की प्रक्रिया का सहारा लिया जा रहा है. परिवार नियोजन का भारत का पहला कल्ब कर्नाटक में ही खोला गया था.

कर्नाटक में सबसे 70 प्रतिशत लोग खेती करते है. यहाँ की अधिकांश भूमि कृषि योग्य है. यहाँ पर उच्च वर्षा होती है. पर कुछ क्षेत्रो में कम वर्षा भी होती है, जहा पर सिंचाई से खेती की जाती है.

कर्नाटक की प्रमुख नदियाँ  कृष्णा, कावेरी और काली नदी है. जिनमे हर समय जल पर्याप्त रहता है. इन नदियों से ही यहाँ के लोग सिंचाई करते है. तथा घरेलु जरूरतों में उपयोग करते है.

कर्नाटक में 2 अन्तर्राष्ट्रीय हवाई हड्डे भी है, जिसमे एक बैंगलोर तथा दूसरा मंगलोर में स्थित है. यहाँ मेट्रो रेल की सुविधा भी है. तथा कुल 3 हजार से भी ज्यादा लम्बाई तक रेल नेट्वर्क विद्यमान है.

हमारे देश में सबसे लोगप्रिय पेय पदार्थ कोपी का 70 प्रतिशत उत्पादन कर्नाटक में होता है. तथा सबसे ज्यादा तिलहन उत्पादन में कर्नाटक देश का पांचवा राज्य है.

कर्नाटक की विधानमंडल
  • 75 विधान परिषद् के सदस्य
  • 225 विधानसभा सीटे
  • 12 राज्य सभा सीटें
  • 28 लोकसभा सीटें
कर्नाटक के बंदरगाह
  1. न्यू मंगलौर पोर्ट
  2. पुराना मैंगलोर पोर्ट
  3. बेलेर्की बंदरगाह
  4. ताड़ी बंदरगाह
  5. होन्नावर बंदरगाह
  6. भटकल बंदरगाह
  7. कुंडापुरा (गंगोली) बंदरगाह
  8. हैंगरकट्टा बंदरगाह
  9. मालपे बंदरगाह
  10. पदुबिद्री बंदरगाह
  11. अंतर्देशीय जल परिवहन
कर्नाटक के प्रसिद्ध मंदिर
  • कोल्लूर मुकाम्बिका मंदिर
  • उडुपी श्रीकृष्ण मंदिर
  • धर्मस्थल मंजुनाथ मंदिर
  • गोकर्ण महाबलेश्वर मंदिर
  • मुरुदेश्वर मंदिर
  • कुके सुब्रमण्यम मंदिर
  • होरानुडू अन्नपूर्णाश्वरी मंदिर
  • गुड़गट्टू महागानापति मंदिर
कर्नाटक यात्रा का सबसे बेहतर स्थल है. यहाँ की सिनेमा होल तथा प्राकृतिक वातावरण देखने लायक है. कर्नाटक भारत का प्रमुख राज्य है. यहाँ का वातावरण शांति का प्रतिक है.

कर्नाटक में मकर सक्रांति से लेकर दशहरा तक सभी त्योहारों को बड़ी धूमधाम के साथ मनाए जाते है. इस राज्य में अनेक धर्मो के लोग रहते है, पर सभी समानता के साथ जीते है.

सम्बंधित निबंध
प्रिय दर्शको उम्मीद करता हूँ, आज का हमारा लेख कर्नाटक पर निबंध Essay On Karnataka In Hindi आपको पसंद आया होगा, यदि लेख अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.