100- 200 Words Hindi Essays 2021, Notes, Articles, Debates, Paragraphs & Speech Short Nibandh Wikipedia

स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध Essay on Swachh Bharat Abhiyan in Hindi

स्वच्छ भारत अभियान- नमस्कार दोस्तों आज हम स्वच्छ भारत अभियान पर अलग-लग शब्द सीमा में छोटे-बड़े निबंध लेकर आए है.तथा साथ ही एक कविता भी दी गई है.इस लेख के माध्यम से हम स्वच्छ भारत अभियान के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे.
स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध  Essay on Swachh Bharat Abhiyan in Hindi

स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध  Essay on Swachh Bharat Abhiyan in Hindi

आज के समय मे हमारे देश मे अनेक स्वच्छता अभियानो का आयोजन किया जा रहा है। जिसमे ‘स्वच्छ भारत अभियान’ एक है। भारत के इस अभियान को भारत मे ही नहीं बल्कि पूरा संसार इस अभियान को चला रहा है। 

भारत द्वारा बनाया गया ये सबसे बड़ा अभियान है। ये देश के विकास के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस अभियान के लिए सभी को जागरूक होना सबसे जरूरी है। जो कि हमारे देश मे लागू है।

प्रस्तावना  
हमारे देश की स्वच्छता बढ़ती जा रही है। आने वाले कई सालो मे हमारा देश दुनिया का सबसे स्वच्छ देश होगा। देश की स्वच्छता बनाये रखने के लिए हमे कोई अभियान बनाने जरूरत नहीं बल्कि हम खुद अपने आस-पास की सफाई करें.

तथा दूसरों को भी यही करने की विनती करें। यदि सभी इसके लिए जागरूक होंगे तभी हमारा देश एक स्वच्छ देश बनेगा। हमे हमारे देश को अपना देश नहीं बल्कि अपना घर समझना है।

अभियान चलाने का मुख्य उदेश्य होता है। कि देश के लोगो को स्वच्छता के महत्व का आभाष करना, अनुभव कराना। हमारे देश की तुलना स्वच्छ देश से करके हमे सीखना चाहिए। कि हमे भी हमारा देश स्वच्छ बनाना है। 

हमारे राष्ट्र पिता महात्मा गांधी जी ने कहा था कि स्वतन्त्रता से ज्यादा सफाई महत्वपूर्ण है। गांधीजी के इन विचारो को देश के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी प्रकट किया तथा देश मे ‘स्वच्छ भारत अभियान’ का निर्माण किया था।

स्वच्छ भारत अभियान का आरंभ
हमारे देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का सपना था। कि हमारा देश स्वच्छ रहें। गांधीजी स्वच्छता के प्रतीक थे। इसलिए हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 2 अक्टूम्बर 2014 को गांधीजी की 145 जयंती के दिन ‘स्वच्छ भारत अभियान’ का आगाज किया था। 

गांधीजी के सपने को मोदी जी ने पूरे करने के लिए इस अभियान का आगाज किया था। विशेषकर ग्रामीण लोगो के लिए जो खुले मे शौच करते है। उन्हे जागरूक करना कि खुले मे शौच करने से बीमारिया फैलती है।

हमारे देश के नागरिकों ने इस अभियान को स्वीकार किया तथा आज सभी शौचालय का उपयोग करते है। जो कि हमारे देश की तथा इस अभियान की सबसे बड़ी उपलब्धि है। 

स्वच्छ भारत अभियान क्या है ?
स्वच्छ भारत अभियान एक राष्ट्रीय स्वच्छता अभियान है। जो कि भारत सरकार द्वारा 2 अक्टूम्बर 2014 को लागू किया गया था। यह एक मिशन है। जो कि देश को 2019 तक स्वच्छ बनाने का था। जो कि सफल हुआ। इस अभियान से देश को सामाजिक तथा आर्थिक रूप से लाभ हुआ है।

हमारे देश को स्वच्छ बनाने के लिए सभी को जागरूक होना होगा। हम देश के एक नागरिक होने के नाते हमे अपने देश को स्वस्थ बनाना है। हमे अपने कृर्तव्यों की पालना करना हमारी ज़िम्मेदारी है। जिसका हमे पालन करना चाहिए। हमे अपने देश को स्वस्थ बनाने के लिए सभी को जागरूक करना होगा।

हमे हमारे देश को एक बार फिर सोने की चिड़िया बनाना है। हमारी सोच ये होनी चाहिए। कि मेरा देश ही मेरा घर है। हमे अपने देश को एक विकसित देश बनाना है। जिसके लिए हमे स्वच्छता सबसे महत्वपूर्ण है।

स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध 400 शब्दों में
स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध  Essay on Swachh Bharat Abhiyan in Hindi
हमारे देश में पिछले कुछ सालो से स्वच्छता पर काफी ध्यान केन्द्रित किया जा रहा है. हमारे देश के राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी जी का सपना था. वे भारत को स्वच्छ देखना चाहते थे.

महात्मागांधी जी के इस सपने को पूरा करने तथा देश में स्वच्छता लेन के लिए सरकार कई नए कानून बना रही है. जिसमे स्वच्छ भारत अभियान सबसे महत्वपूर्ण है. और इस अभियान को काफी पसंद भी किया जा रहा है. इसका लोग सहयोग भी कर रहे है.

इस अभियान का मुख्य उद्देश्य देश को स्वच्छ तथा प्रदुषण रहित बनाना है. इस अभियान की शुरुआत महात्मा गाँधी जी  की जयंती के दिन 2 अक्टुम्बर 2014 को वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा किया गया था. 

गाँधी जी के सपने को साकार करने के लिए शुभारम्भ भी गाँधी जी की जयंती से किया. ये अभियान बहुत बड़ा अभियान है. ये राष्ट्र स्तरीय अभियान है. इस अभियान के तहत लोगो को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जा रहा है.

स्वच्छ भारत अभियान बहूउद्देश्यी योजना है. इस योजना के अनेक उद्देश्य है. जिसमे हमारे देश को स्वच्छ तथा खुले में शौच मुक्तउचित जल निकासी प्रणाली आदि प्रमुख उद्देश्य है. इस अभियान को सफल होने के लिए सभी को जागरूक होना जरुरी है. हालाँकि हमारे देश में इस अभियान को काफी सहयता मिल रही है.

इस अभियान का प्रमुख लक्ष्य देश को स्वच्छ तथा सुन्दर बनाना है. इसलिए हमें अपने देश को पवित्र तथा स्वच्छ बनाने के लिए इस अभियान का सहयोग करना चाहिए. इस अभियान से हमें अनेक लाभ है. इस अभियान से हमें आर्थिक सहायता भी मिलती है. तथा हम स्वच्छता की ओर भी अग्रसर होते है. 

हमारे देश में हर व्यक्ति को लगभग 10 से 15 हजार रुपये प्रति वर्ष की दवाइया खरीदनी पड़ती है. इससे आप अनुमान लगा सकते है. कि सम्पूर्ण देश में कितनी आय की जरुरत पड़ती है. इस गन्दगी के कारण. इसलिए तो हमारे देश में स्वच्छता अभियान चलाया गया. इस अभियान से ही हमारे देश में विकास संभव है.

ये अभियान स्वच्छता को बढ़ावा देता है. हमारे देश में 70 फीसदी लोग गाँवो में निवास करते है. और गाँवो में स्वच्छता अभियानों की सुविधा नहीं है. गाँवो में खुला शौच एक बहुत बड़ी समस्या है.

गाँवो में लोग बोतल लेकर खेतो में शौच करते है. साथ ही महिलाए भी खुले में शौच जाती है. जिससे महिलाओ की इज्जत को ठेस पहुंचती है. इसे लेकर इस अभियान की जरुरत पड़ती है.

स्वच्छ भारत अभियान से हम अपने देश को पूर्ण रूप से स्वच्छ बना सकते है. पर इसके लिए देश के सभी नागरिको को जागरूक होकर सहायता प्रदान करनी होगी. तभी ये अभियान सफल हो सकता है.

इस अभियान से हमें अनेक फायदे है. इससे हमारा वातावरण शुद्ध रहता है. तथा हमारा देश कचरा मुक्त रहेगा. तो हमें गन्दगी का सामना नहीं करना पड़ेगा.

यदि गन्दगी नहीं हुई तो हम पूर्ण रूप से स्वच्छ रह पायेंगे.जिससे हमें अनेक लाभ होंगे. जैसे-स्वास्थ्य का लाभ,आर्थिक पैसो की बचत तथा महत्वपूर्ण समय की बचत आदि.

हमारा देश अभी-भी विकासशील देशो में गिना जाता है. जिसका कारण हमारे देश की गन्दगी ही है. हमारे देश को विकसित बनाने के लिए हमें स्वच्छता पर जोर देना होगा. और हमारा देश तभी स्वच्छ होगा. जब देश पूर्ण रूप से स्वच्छ होगा.

यदि हमारा देश इस प्रकार का बदलाव करता है. तो अन्य देश भी भारत से प्रेरित होकर स्वच्छता पर ध्यान देंगे. और जल्द ही हमारी पृथ्वी स्वच्छ हो जाएगी.

स्वच्छ भारत पर निबंध Long Essay On Swachh Bharat Abhiyan In Hindi

स्वच्छ भारत पर लेख, निबंध Clean india essay in hindi
स्वच्छता हमारे स्वास्थ्य से जुडी हुई है. जिस प्रकार का हमारा चारो ओर का परिवेश होगा. वैसा ही हमारा स्वास्थ्य होगा. यदि घर के आस-पास गन्दगी होगी तो हम बीमार होंगे.

यदि स्वच्छता रहेगी. तो हम भी स्वच्छ रहेंगे. इसलिए हमारे मानसिक स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए स्वच्छता बेहद जरुरी है.
''यदि स्वस्थ तन की रखते हो आश.
तो करो सफाई आस-पास.'' 

हमारे देश के राष्ट्रपिता महत्मा गांधीजी ने आज से 100 वर्ष पूर्व देश को स्वच्छ बनाने का सपना देखा था. पर वे देश को स्वच्छ नहीं करा सके. लेकिन  उन्होंने हमारे देश को स्वच्छ बनाने के लिए सभी को प्रेरित जरुर किया. 

गांधीजी के इस सपने को पूर्ण करने के लिए हमारे वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीजी ने गांधीजी की जयंती पर स्वच्छ भारत अभियान की शरुआत कर देश को पूर्ण रूप से स्वच्छ कराने का सकल्प लिया था.

हमारे देश में कई लोग ऐसे है. जो झाड़ू निकालने में देश की सफाई करने में शर्माते है. कि हम बड़े आदमी है. हमारे पास इतनी प्रोपर्टी है. हम धनवान है. हम घर की सफाई भी नौकरों से करवाते है.

इन लोगो को में कहना चाहूँगा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री देश के सबसे बड़े व्यक्ति है. उन्होंने खुद झाड़ू लगाकर इस अभियान की शुरुआत की है. तो हमें इसमे क्यों शर्म आ रही है.

देश की सफाई देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. और ये कार्य एक व्यक्ति या एक समूह द्वारा नहीं किया जा सकता है. इसके लिए सभी नागरिको को जागरूक होना जरुरी है.

हमारे देश में इस अभियान से स्वच्छता पर काफी ध्यान दिया जा रहा है. और आज हमारे देश में अधिकांश लोग भी इसके लिए जागरूक है. इसी कारण हमारे देश में आज गन्दगी सबसे कम है.

भारत इतना विशाल देश होने पर भी हमारे देश में सफाई का कार्य सबसे तेजी से किया जा रहा है. इस प्रकार हमारे देश में लोग स्वच्छता को महत्व देते रहे तो आने वाले कुछ ही सालो में हमारा देश पूर्ण रूप से स्वच्छ हो जायेगा.

स्वच्छता में भारत की तुलना अन्य देशो से की जाए तो अनेक देश ऐसे है. जो पिछले कई सालो से प्रयासरत है. पर अभी तक उन्हें सफलता नहीं मिली है. और हमारे देश में स्वच्छता के महत्व को लोग बहुत जल्दी समझ गए है. और आने वाले कुछ ही सालो में हमारा देश विश्व के सबसे स्वच्छ देशो में गिना जायेगा.

एक विशाल देश में सभी लोगो इतने जल्दी जागरूक करना हमारे लिए एक बड़ी उपलब्धि है. पर ये कार्य जोर जबरदस्ती से नहीं किया जा सकता है. इसे नागरिको के लाभों से जोड़ा गया है.

जिससे नागरिक जल्दी ही जागरूक हुए है. इससे हमें अनेक लाभ होते है. हमारी बीमारियों का प्रमुख कारण गन्दगी ही है. इसलिए हमें गन्दगी को दूर भागकर खुद को बीमारी से मुक्त करवाना है.

हमारे देश में स्वच्छता के प्रति लोगो की जागरूकता का अंदाजा हम इस बात से ही लगा सकते है. कि हमारे देश में स्वच्छता के मामले में अपने राज्य को अव्वल लाने के लिए लोग खूब सफाई कर रहे है. और अन्य लोगो को भी इसके लिए जागरूक कर रहे है.

सफाई के लिए छोटे-छोटे समूह बनाकर अपना क़स्बा निश्चित कर लोग सफाई करते है. जो लोग सफाई को बढ़ावा देते है. स्वच्छता का महत्व क्या है? स्वच्छता के बारे में सभी को समझाते है. स्वच्छता का बनाये रखते है. ऐसे लोगो को सरकार सम्मनित भी करती है.

स्वच्छता के लिए कई धनवान लोग दान भी कर रहे है. तथा अनेक लोग अपने शहरों को गन्दगी से मुक्त करवाने के लिए तत्पर तैयार है. लोगो का एक ही लक्ष्य है. पुरे देश को स्वच्छ बनाना.

''देश अपना साफ हो, इसमे हम सब का हाथ हो।''

हर कार्य को सफलता पूर्वक करने में जनभावना का होना सबसे महत्वपूर्ण होता है. और स्वच्छ भारत अभियान में जनभावना बहुत अधिक है. लोग इसमे बहुत जल्दी जुड़ रहे है.

अपने तन-मन से अपने घर की तरह देश को स्वस्थ बनाना चाहते है. और यही सोच आगे जाकर हमारे देश को स्वच्छ बनाएगी. गांधीजी के 100 साल पुराने सपने को सफल बनाएगी.

स्वच्छ भारत अभियान पर कविता Poem On Swachh Bharat Abhiyan

जन जन का ही नारा, 
स्वच्छ देश हो हमारा,

स्वच्छता को जीवन में लाओ, 
बीमारियों को दूर भगाओ,,

हाथ से हाथ मिलाना है,
देश को स्वच्छ बनाना है,

देश को स्वच्छ बनाओगे,
तो साफ सवेरा पाओगे,

सभी रोगों की एक दवाई,
घर में रखो साफ और सफाई

ये भी पढ़ें

प्रिय दर्शको आज का हमारा लेख स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध Essay on Swachh Bharat Abhiyan in Hindi आपको कैसा लगा? कमेन्ट में अपनी रे दें. यदि पसंद आया है. तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.