100- 200 Words Hindi Essays, Notes, Articles, Debates, Paragraphs & Speech

विद्यालय के वार्षिकोत्सव पर निबंध | Annual day function essay in hindi

विद्यालय के वार्षिकोत्सव पर निबंध | Annual day function essay in hindi: हर साल आयोजित वार्षिक उत्सव पर बच्चों के लिए निबंध बता रहे हैं. Annual day function essay in hindi में छोटा बड़ा हिंदी निबंध आपकों पढ़ने को मिलेगा जिसे आप anchoring speech for annual function in hindi रिपोर्ट अथवा अनुच्छेद के रूप में भी उपयोग कर सकते हैं.

विद्यालय के वार्षिकोत्सव पर निबंध | Annual day function essay in hindi

Sample Essay on “My School's Annual Function” in Hindi. Article shared by. Read this Sample Essay on “My School's Annual Function” in Hindi language: हमारे विद्यालय का वार्षिक उत्सव प्रस्तावना वर्तमान काल में विद्यालयों में हर वर्ष वार्षिकोत्सव का आयोजन किया जाता है ऐसे उत्सव का छात्रों के जीवन पर बड़ा प्रभाव पड़ता है वार्षिकोत्सव मैं अनेक कार्यक्रम रखे जाते हैं. 

जिस में भाग लेने वाले छात्रों में नवीन उच्चा स्फूर्ति कथा इस सजगता आ जाती है और उन्हें बहुत कुछ व्यवहारिक शिक्षा मिल जाती है उत्सव की तैयारियां हमारे विद्यालय के प्रधानाध्यापक जी ने प्रार्थना सभा में घोषणा की की दो सत्ता बाद 24 अप्रैल को विद्यालय का वार्षिकोत्सव मनाया जाएगा. 

इस सूचना से सभी छात्र उत्सव की तैयारी में जुट गए गए कुछ छात्रों ने गुरुजनों की सहायता से एक एकांकी नाटक की तैयारी की और उसकी रियो सरल करने लगे कुछ शास्त्र गायन वादन और विचित्र वेशभूषा की तैयारियों में लग गए विद्यालय के मैदान में एक बड़ा पांडाल वह मंच बनाया गया और अभिभावकों को निमंत्रण पत्र भेजे गए उत्सव का आरंभ एवं कार्यक्रम निश्चित दिनों को प्रातः 9:00 बजे से वार्षिकोत्सव प्रारंभ हुआ. 

सभी आगंतुक अपने अपने स्थान पर बैठ गए उत्सव के मुख्य अतिथि राज्य शिक्षा मंत्री जी ठीक समय पर आ गए उनके आसन ग्रहण करते ही सर्वप्रथम 5 छात्रों ने वंदे मातरम राष्ट्रीय गीत गाया इसके बाद स्वागत गाना हुआ और मंच पर बैठे सभी महानुभावों को पुष्प मालाएं पहनाई गई. 

इसके बाद प्रधानाध्यापक जी ने स्वागत भाषण दिया विविध कार्यक्रम वार्षिक उत्सव के अवसर पर वाद विवाद प्रतियोगिता अंत्याक्षरी एवं एकल गायन प्रतियोगिता प्रारंभ हुई इसके बाद लंबी कूद ऊंची कूद आदि का आयोजन हुआ. 

फिर हॉकी फुटबॉल के मैच में 2 घंटे की विश्राम के बाद रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए इसमें छात्रों ने ऐकनिभय एकांकी नृत्य विचित्र वेशभूषा आदि को आकर्षण रूप में प्रस्तुत किया इन सभी कार्यक्रमों के बाद मुख्य अतिथि का भाषण हुआ. 

उन्होंने छात्रों को सच्चरित्राशील तथा कर्तव्य परायण बनने का उपदेश दिया इसके बाद छात्रों को पुरस्कार का वितरण किया गया अंत में प्रधानाध्यापक जी ने सभी आगंतुकों को धन्यवाद दिया इस प्रकार बड़ी हंसी खुशी के वातावरण में हमारे विद्यालय का वार्षिकोत्सव संपन्न हुआ उपसंहार प्रत्येक विद्यालय में उत्सव मनाए जाते हैं इन छात्रों को प्रोत्साहन मिलता है. 

शादी अभिभावकों को अपने बालकों के मानसिक विकास का वास्तविक परिचय मिलता है वार्षिक उत्सव के आयोजन से जहां विद्यालय की गतिविधियों का पता चलता है वहां शास्त्रों में परस्पर सहयोग संगठन आदि गुणों का विकास भी होता है

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

अपनी मूल्यवान राय दे