100- 200 Words Hindi Essays, Notes, Articles, Debates, Paragraphs & Speech

महाराष्ट्र राज्य पर निबंध | essay on maharashtra state in hindi

महाराष्ट्र राज्य पर निबंध essay on maharashtra state in hindi :  नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत हैं आज के निबंध में हम महाराष्ट्र के बारे में जानेगे. देश के समृद्ध प्रदेशों में से एक महाराष्ट्र के निबंध essay maharashtra में हम राज्य के इतिहास हिस्ट्री ब्रीफ इनफार्मेशन संस्कृति आदि पर सरल भाषा में भाषण स्पीच अनुच्छेद आर्टिकल पैराग्राफ यहाँ बता रहे हैं.

essay on maharashtra state in hindi

essay on maharashtra state in hindi


महाराष्ट्र शब्द दो शब्दों के संयोग से बना है महा तथा राष्ट्र जिसका शाब्दिक अर्थ महान देश होता है महाराष्ट्र बाल गंगाधर तिलक दादा भाई नौरोजी वीर सावरकर गांधी जी के गुरु गोपाल कृष्ण गोखले की जन्मभूमि रही है महाराष्ट्र को धनी तथा संपन्न राज्यों में शामिल किया जाता है  महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई है.

जो देश की आर्थिक राजधानी होने के साथ ही सबसे बड़ा शहर भी है महाराष्ट्र उद्योग के क्षेत्र में अग्रणी राज्य है भारत के कुल औद्योगिक उत्पादन का लगभग एक चौथाई भाग यहां उत्पादित होता है अपनी विशिष्ट भौगो लिक पहचान तथा सांस्कृतिक विरासत के चलते अपने नाम का सार्थक अर्थ देता है.

महाराष्ट्र की उत्तरी भौगोलिक सीमा सतपुड़ा पर्वत बनाता है तथा पश्चिम में अरब सागर स्थित है महाराष्ट्र के अधिकांश भाग का निर्माण बेसाल्ट खंडको से हुआ है राज्य की सबसे ऊंची पर्वत चोटी  कलसूबाई  है जिसकी ऊंचाई  1646  मीटर है महाराष्ट्र के पड़ोसी राज्य गोवा कर्नाटक तेलंगाना गुजरात मध्य प्रदेश तथा छत्तीसगढ़ है महाराष्ट्र की प्रमुख नदियों में ताप्ती नर्मदा तथा गोदावरी है ताप्ती तथा नर्मदा विशाल घाटियों का निर्माण करती है.

अन्य नदियों में भीमा पैनगंगा मुला पूर्णा तथा पंचगंगा है राज्य के पश्चिम में स्थित पश्चिमी घाट जैव विविधता की दृष्टि से महत्वपूर्ण है भारत की एकमात्र उल्का पिंड के गिरने से निर्मित झील लोनार झील महाराष्ट्र में स्थित है भारत में सर्वाधिक बांधों वाला राज्य महाराष्ट्र है लेकिन दुर्भाग्य से अधिकांशत बांध सूखे हैं जिसके कारण गर्मियों में यहां पेयजल की किल्लत देखी जाती है.

महाराष्ट्र का कुल क्षेत्रफल 307713 वर्ग किलोमीटर है क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का दूसरा सबसे बड़ा राज्य है जो देश के कुल क्षेत्रफल का 9.36% भाग है राज्य का औसत तापमान 25 से 28 डिग्री सेंटीग्रेड रहता है तथा औसत वार्षिक वर्षा 400 से 600 मीमी होती है राज्य की प्रमुख फसलों में मक्का चावल ज्वार तथा बाजरा प्रमुख है.

महाराष्ट्र में तीन राष्ट्रीय उद्यान स्थित है ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान नागजीरा राष्ट्रीय उद्यान तथा गुगामल राष्ट्रीय उद्यान महाराष्ट्र का राज्य पशु भारतीय विशाल गिलहरी तथा राज्य पक्षी पीले पैरों वाला हरा कबूतर है वही आम को राज्य वृक्ष तथा जरूल को राज्य फूल का दर्जा दिया गया है.

भारत की सबसे बड़ी प्याज मंडी नासिक में स्थित है महाराष्ट्र के नागपुर में भारतीय रिजर्व बैंक की शाखा है यह एकमात्र शाखा है जो किसी राज्य की राजधानी में स्थित नहीं है.

महाराष्ट्र का ज्ञात इतिहास उतना ही पुराना है जितना भारत का सिंधु घाटी सभ्यता के दक्षिणी स्थल महाराष्ट्र में खोजे गए उसके बाद यह प्रदेश उद्योग तथा व्यापार का केंद्र बिंदु रहा दिल्ली शासकों में सर्वप्रथम अलाउद्दीन खिलजी ने यहां पर आक्रमण किया तथा इसे अपने साम्राज्य में मिला दिया.

मध्यकाल में सर्वाधिक योजनाएं बनाने वाले शासक मोहम्मद बिन तुगलक ने अपनी राजधानी का स्थानांतरण दौलताबाद किया जो महाराष्ट्र में स्थित है कालांतर में बहमनी सुलतानो के अधीन प्रदेश का अधिकांश भाग रहा बाद में मराठाओं ने मुगलों से संघर्ष कर  सत्ता स्थापित की उसके बाद पेशवा राजवंश ने लंबे समय तक यहां शासन किया तथा अंग्रेजों से लोहा लिया.

मुंबई अंग्रेजी शासन का प्रमुख केंद्र बिंदु रहा तथा यहां उद्योगों की स्थापना हुई भारत की पहली रेल 16 अप्रैल 1853 को मुंबई से ठाणे के बीच में चलाई गई.

स्वतंत्रता की प्राप्ति के बाद भाषाई आधार पर किए गए राज्यों के पुनर्गठन के आधार पर मुंबई राज्य को दो भागों में विभाजित कर 1 मई 1960 को गुजरात तथा महाराष्ट्र नवीन राज्यों का गठन किया गया इसलिए 1 मई को महाराष्ट्र दिवस मनाया जाता है.

महाराष्ट्र की वर्तमान जनसंख्या 12 करोड़ को पार कर चुकी हैं विश्व में केवल 11 देशों की जनसंख्या महाराष्ट्र की जनसंख्या से अधिक है महाराष्ट्र को सभ्य प्रदेश भी कहा जाता है यहां की आधी आबादी शहरों में निवास करती है मुंबई तथा पुणे में राज्य की 30% आबादी निवास करती है महाराष्ट्र में द्विसदनीय विधायिका है.

जिसमें विधानसभा के 288 सदस्य तथा विधान परिषद के 78 सदस्य हैं महाराष्ट्र में 36 जिले हैं महाराष्ट्र मे लोकसभा क्षेत्रों की संख्या 48 है तथा राज्यसभा के लिए 19 सदस्यों का निर्वाचन किया जाता है राज्य की प्रमुख भाषाएं मराठी अंग्रेजी तथा कोकणी है.

पर्यटन की दृष्टि से महाराष्ट्र संपन्न राज्य हैं सैकड़ों गुफाएं तथा उनमें की गई वास्तुशिल्प पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बिंदु है मुंबई प्रमुख पर्यटन स्थल है जहां पर फिल्म उद्योग गेटवे ऑफ इंडिया मरीन ड्राइव जुहू बीच मणि भवन तथा सिद्धिविनायक भ्रमण योग्य स्थल है इसके अलावा पुणे शहर में भी कई दर्शनीय स्थल है महाराष्ट्र भारत का एकमात्र वह राज्य है जहां दो शहरों मुंबई तथा पुणे मे मेट्रो संचालित है.

औरंगाबाद की अजंता एलोरा की गुफाएं कई सारे हिल स्टेशन दौलताबाद मुंबई तथा प्रतापगढ़ जैसे किले और प्रमुख स्मारकों में चांद मीनार लाल महल तथा केसरीवाडा अपने ऐतिहासिक महत्व व कलाकृति के लिए प्रसिद्ध है.

महाराष्ट्र में हिंदू जनसंख्या का आधिक्य है राज्य के प्रमुख त्योहारों में गणेश चतुर्थी बड़े धूमधाम से मनाई जाती है इसके अलावा होली दीपावली दशहरा ईद क्रिसमस तथा गुंडों पड़वा नारली पूर्णिमा तथा महाशिवरात्रि पर्वों का राज्य की संस्कृति में विशेष महत्व इनके अलावा महाराष्ट्र के औरंगाबाद का अजंता एलोरा महोत्सव तथा एलिफेंटा महोत्सव विश्व प्रसिद्ध है.

राज्य की संस्कृति की झलक यहां के लोक नृत्यों में देखी जा सकती है प्रमुख लोक नृत्यों में धनगरी लावणी पोवादास तमाशा व कोली है इसके अलावा कला तथा डिंडी  प्रमुख धार्मिक नृत्य हैं.

महाराष्ट्र का भलेरी यहां के कामगारों में प्रचलित लोकगीत है  जिसकी धुन खेतों में  तथा उद्योगों में  काम करने वाले लोगों से सुनी जा सकती है इसके अलावा भरूड तथा तुंबादी प्रमुख लोकगीत हैं जो विभिन्न उत्सवों तथा आयोजनों के अवसर पर सुनने को मिलते हैं.

उम्मीद करता हूँ दोस्तों महाराष्ट्र राज्य पर निबंध essay on maharashtra state in hindi का यह लेख आपकों पसंद आया होगा, यदि आपकों महाराष्ट्र निबंध में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

अपनी मूल्यवान राय दे