100- 200 Words Hindi Essays 2022, Notes, Articles, Debates, Paragraphs Speech Short Nibandh Wikipedia Pdf Download, 10 line

क्रिकेट पर निबंध | Essay on Cricket in Hindi Language

क्रिकेट पर निबंध- मनुष्य स्वभाव से ही खेल प्रिय रहा है और अपनी मानसिक थकान को मिटाने के लिए जहां मनोरंजन के विभिन्न साधनों का उपयोग करता है.वही वह खेल भी खेलता है. आज हम क्रिकेट के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करेंगे.

क्रिकेट पर निबंध | Essay on Cricket in Hindi Language

क्रिकेट पर निबंध | Essay on Cricket in Hindi Language
खेल मनोरंजन का सबसे सस्ता और उसी का साधन है खेल खेलने से मन और शरीर दोनों ही स्वस्थ रहते हैं मेरा प्रिय खेल क्रिकेट है जिसको मैं खेलता हूं मैदान और खिलाड़ी क्रिकेट आज का सबसे लोकप्रिय खेल है.

बड़े मैदान में इस खेल की पिच २२ गज लंबी होती है इसके दोनों किनारों पर तीन-तीन विकेट जमीन में गड़ी हुई होती है इस खेल में दो टीमों के बीच मैच होता है

प्रत्येक टीम में 11-11 खिलाड़ी होते हैं प्रत्येक टीम की अपनी अपनी पोशाक होती है खेलने के प्रमुख साधन बैट और बॉल होते हैं खेल खेलना दोनों दल खेल के मैदान में एक तरफ होते हैं खेल का प्रारंभ टॉस से होता है.

जिस टीम का कप्तान तो जीत जाता है उससे अंपायर पूछता है कि पहले आप चैटिंग करेंगे या फिर भी उसकी जो इच्छा होती है वह पेटी और फील्डिंग में से किसी एक को चुन लेता है तो रूठ जाती है.

एक बैटिंग करने वाली और दूसरी फील्डिंग करने वाली बैटिंग करने वाली टीम रन बनाती है और फील्डिंग करने वाली टीम बनाने से रोकती है. और विरोधी टीम के खिलाडी को आउट करने का प्रयास करती है.

दोनों खेल कर ज्यादा रन बनाए घोषित कर दी जाती है खेल के रूप यह कई रूपों में खेला जाता है एकदिवसीय मैच पांच दिवसीय टेस्ट मैच और ट्वेंटी-20 मैच T20 एकदिवसीय मैचों में 1 दिन में नतीजा निकल जाता है पांच दिवसीय टेस्ट मैच में दोनों टीमें 22 बार खेलती है.

रन बनाते समय यदि बोल सीमा रेखा से बाहर चली जाती है तो चौका कहलाता है और यदि कोई बेस्ट मैन बोर्ड को हवा में ही सीमा रेखा के बाहर पहुंचा देता है तो वह छक्का कहलाता है

क्रिकेट अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आज का सबसे लोकप्रिय खेल इस खेल को खेलने से शरीर स्वस्थ रहता है.
वह मानसिक और शारीरिक विकास भी होता है इसलिए यह मेरा प्रिय खेल है.

मेरे खेल के प्रिय खेल के कुछ महान खिलाड़ी थे और हैं सर डॉन ब्रैडमैन सर गैरी सोबर्स सर विवियन रिचर्ड्स सर रिचर्ड हेडली सुनील गावस्कर कपिल देव आदि मेरी इच्छा है कि मैं भी इस खेल को खेल कर अपने खिलाड़ियों की और अपने माता पिता तथा देश का नाम रोशन करू.

long Essay on Cricket in Hindi
क्रिकेट पर निबंध | Essay on Cricket in Hindi Language
क्रिकेट आज के समय का सबसे लोकप्रिय खेल है. बात खेलने की हो या देखने की सभी में बच्चो से लेकर बुर्जुर्गो तक हर व्यक्ति क्रिकेट से जुड़ा रहना चाहता है.

क्रिकेट एक आउटडोर खेल है. जिस कारण इसे खेलने पर हमारा शारीरिक व्यायाम भी होता है. क्रिकेट खेलने शरीर तेज बनता है. यही कारण है, कि आज इसकी लोकप्रियता सबसे अधिक है.

क्रिकेट अन्तर्राष्ट्रीय तथा राष्ट्रीय स्तरों पर खेला जाता है. क्रिकेट खेल में दो टीमो के माध्यम मुकाबला होता है. दोनों टीमो में निर्धारित 11-11 खिलाडी होते है. जो अच्छा खेल दिखाते है.

क्रिकेट मैच की शुरुआत टॉप द्वारा होती है. टॉस एक सिक्का होता है. जो अम्पायर यानी निर्णायक द्वारा उछाला जाता है. और दोनों टीमो के कप्तान में से कोई एक हेड या टेल बोलता है. जो टॉस जीतता है. वह परस्थिति और टीम रणनीति के अनुसार गेंदबाजी या बलेबाजी का चयन करता है.

क्रिकेट मैच आमतौर पर बड़े मौदानो में खेला जाता है. जिसमे मेलबोर्न जैसे स्टेडियम भी शामिल है. क्रिकेट मैच के मैदान की लम्बाई लगभग 70 से 80 मीटर के बीच होती है. इसमे मैदान के अनुसार बदलाव होता है.

मैदान के बीच में पिच होती है. जो खेलने के लिए होती है. ये पिच 22 गज लम्बी होती है. और इस पिच के दोनों और तीन-तीन डंडे लगे होते है. जिसे क्रिकेट में विकेट कहते है.

एक मैच में एक बार टॉस होती है. जिसके बाद टॉस जितने वाला कप्तान इच्छा अनुसार बलेबाजी और गेंदबाजी का चयन करता है. जो टीम बलेबजी करती है. उसके शीर्ष के दो खिलाडी बलेबाजी के लिए आते है.

वही दूसरी टीम के सभी 11 खिलाडी मैदान में फील्डिंग के लिए आते है. मैच में दो अम्पायर होते है. जो निर्णय करते है. और कई बार जटिल निर्णयों में तीसरे अम्पायर का सहारा भी लिया जाता है.

क्रिकेट के कई फोर्मेट है. जैसे टी ट्वेंटी, वनडे तथा टेस्ट आदि. टी ट्वेंटी में 20 ओवर का मुकाबला होता है. एक ओवर में 6 बार गेंद फेंकी जाती है. वनडे 50 ओवर का होता है. ये दोनों फोर्मेट एक दिन में ही मैच को खत्म कर देते है. इसलिए इन मैचो को एकदिवसीय मैच भी कहते है.

टेस्ट मैच पांच दिनों तक चलता है. हर दिन 90 ओवर का खेल होता है. हर टीम को दो पारी खेलने का मौका मिलता है. दोनों परियो में सर्वाधिक रन बनाने वाली टीम मैच जीत जाती है.

क्रिकेट मैच में बलेबजी टीम को अधिक रन बनाने की जरुरत होती है. तथा गेंदबाजी टीम को उसे रोककर कम रनों तक ही सन्तुष करने की. गेंदबाज द्वारा फेंकी गई गेंद को यदि बलेबाज मारता है. और वो हवा में निर्धारित सीमा रेखा से बाहर जाती है. तो वह छक्का यानी छः रन माने जाते है.

यदि बलेबाज गेंद को मरता है, गेंद जमीन को छूकर सीमारेखा को पार करती है. तो वो चार रन माने जाते है. और मैदान में ही गेंग रह जाने पर बलेबाज सामने के स्टम्प पर दोड़कर जाता है. तो एक रन बनता है.

जब गेंदबाज गेंदबाजी करते हुए. बलेबाज को मिस करते हुए. गेंद विकट पर लग जाती है. तो बलेबाज को आउट माना जाता है. और नए बलेबाज को बल्लेबाजी के लिए बुलाया जाता है. इस प्रकार एक टीम 10 खिलाडी के आउट होने तक खेल सकती है. 10 खिलाडी आउट होने पर टीम को ऑल आउट माना जाता है.

खिलाडी आउट होने के कुछ नियम रन आउट इस नियम का अनुसार बलेबाज गेंद को मारने के बाद दुसरे विकेट की ओर यानी दूसरो छोर की ओर भागता है. यदि वह दूसरो छोर पर पहुँचाने से पहले गेंद को फिल्डर द्वारा विकेट में मार दिया जाता है. तो वह रन आउट माना जाता है.

स्टम्प आउट क्रिकेट में बलेबाज के पीछे एक खिलाडी को रखा जाता है. जो गोलकीपर की तरह होता है. जिसे क्षेत्ररक्षक कहते है. यदि बलेबजी गेंद को मारने के लिए निर्धारित सीमा से आगे जाता है. तो क्षेत्ररक्षक गेंद को विकेट में मार देता है.

बलेबाज का वापस क्रीज में आने से पूर्व गेंद को विकेट मे डाल देने पर बलेबाज को आउट घोषित किया जाता है. क्रीज की लम्बाई लगभग 1 से 2 मीटर के मध्य होती है. इस प्रकार विकेट को स्टम्प आउट कहते है.

कैच आउट इस नियम में बलेबाज गेंदबाज की गेंद को मारता है. तथा गेंद बिना जमीन को सम्पर्क किये मैदान में खेल रहे विपक्षी टीम के खिलाडी के पास जाती है. तो इस प्रकार गेंद को पकड़ने पर कैच आउट होता है.

इस प्रकार क्रिकेट में अनेक नियम है. इस प्रकार दोनों टीम एक दुसरे से अधिक रन बनाने में लगी रहती है. और विकेट को संभाल कर रखती है. जो टीम अधिक रन बनाती है. वह टीम जीत जाती है.

क्रिकेट का एक मैच लगभग 5 से 7 घंटे तक चलता है. इस दौरान दर्शको की भीड़ को देखा जा सकता है. जो स्टेडियम में क्रिकेट दिवानो की भीड़ हो या फिर ऑनलाइन मैच पर सभी लोग मैच को पूरा देखते है.

मैच में जो खिलाडी सबसे अच्छा पर्दशन करता है. टीम को जीत दिलाने में सबसे श्रेष्ठ प्रदर्शन करता है. उसे मैन ऑफ़ द मैच का आवार्ड दिया जाता है. जिसमे ट्रोपी के साथ कुछ नकद भी होती है.

दो टीमो के बीच एक से अधिक मैच होते है, तो उसे सीरिज कहते है. पूरी सीरिज में सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाडी को मैन ऑफ द सीरिज का आवार्ड दिया जाता है. और जो टीम सीरिज में अधिक मैच जीतती है. उसे ट्रोपी देकर सम्मानित किया जाता है.

क्रिकेट को मै सबसे अच्छा खेल मानता हूँ. और क्रिकेट में भी खूब खेलता हूँ. क्रिकेट आज का सबसे लोकप्रिय खेल है. क्रिकेट से लाखो लोग जुड़े हुए है. जो उनकी दीवानगी को स्पष्ट करते है.

ये भी पढ़ें
प्रिय दर्शको उम्मीद करता हूँ, आज का हमारा लेख क्रिकेट पर निबंध | Essay on Cricket in Hindi Language आपको पसंद आया होगा, लेख अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.