100- 200 Words Hindi Essays 2022, Notes, Articles, Debates, Paragraphs Speech Short Nibandh Wikipedia Pdf Download, 10 line

कारगिल विजय दिवस पर भाषण Kargil Vijay Diwas Speech In Hindi

कारगिल विजय दिवस पर भाषण 2022 Kargil Vijay Diwas Speech In Hindi- नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है, आज के हमारे इस आर्टिकल में हम  Kargil victor day speech 2022 for student प्रस्तुत करेंगे. कारगिल विजय दिवस एक उत्सव है, जिसे हम मनाकर देश की सेना और देशभक्तों का हैसला बढाते है.

कारगिल विजय दिवस पर भाषण Kargil Vijay Diwas Speech In Hindi

कारगिल विजय दिवस पर भाषण Kargil Vijay Diwas Speech In Hindi
कारगिल विजय दिवस भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए एक विशेष दिवस है, इस दिवस को देश का स्वर्णिम दिवस माना जाता है. यह वह दिन है, जिस दिन देश की सेना ने कारगिल युद्ध को फतह किया था, तथा दुश्मन सेना को खदेड़ दिया था.

हर वर्ष 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस मनाया जाता है. इस दिवस की शुरुआत भारत पाकिस्तान के बीच हुए कारगिल युद्ध के समापन के साथ ही हुई भारत ने पाकिस्तान को कारगिल युद्ध में हरा दिया जिस कारण 1999 से अभी तक हम हर साल 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस के रूप में मनाते है.

भारत पाकिस्तान के बीच हुआ कारगिल युद्ध दो माह तक चला जिसमे भारत ने विजय प्राप्त की. और देश के लिए अपनी कुर्बानी देने वाले सैनिको को सम्मान देने के लिए हर साल कारगिल विजय दिवस अमृत महोत्सव मनाया जाता है.

भारत का सौर्य और वीरता का परिचय दिलाने के लिए हर साल २६ जुलाई को कारगिल विजय दिवस मनाया जाता है. यह दिवस सैनिको और देशभक्तों को समर्पित है. इस दिवस के अमृत महोत्सव पर सभी अपनी अपनी प्रस्तुति देते है. आज हम इस विशेष दिवस के लिए विशेष भाषण लेकर आए है.

Kargil Vijay Diwas speech

सभी को मेरा नमस्कार मै { अपना नाम बोले} है. मै आप सभी के समक्ष इस अमृत महोत्सव पर कुछ शब्द बयां करना चाहूँगा. जो शहीद वीरो को सम्मानित करेंगे. सबसे पहले सभी एक बार जोर से भारत माता की जय की नारा लगाए.

कारगिल विजय दिवस केवल विजय पताका के लिए नहीं मनाया जाता है, बल्कि इस दिन के लिए भारत के 527 वीर जांबाज जिन्होंने देश के लिए अपनी आहुति दी, उनके सम्मान और उनके स्वाभिमान के लिए इस दिन विशेष कार्यक्रमों का आयोजन होता है.

भारत को हमेशा से ही विवेक, धैर्य और वीरता का प्रतीक माना जाता था, जिसका एक नमूना कारगिल युद्ध में निडर होकर लड़ने वाले भारतीय सैनिको ने सभी के सामने पेश किया था.

कारगिल की जीत गद्दारी पर ईमानदारी की जीत थी. समझौता करने के बाद भी पाकिस्तान ने गद्दारी की और देश के ताज को छीनने चले थे, पर भारतीयों के आगे घुटने टेकने को मजबूर हुए.

युद्ध किस राजनेता के काल में हुआ इसका कोई महत्व नहीं होता है, बल्कि महत्व उस युद्ध में लड़ने वाले सैनिको का सर्वश्रेष्ठ होता है, जो अपने समर्पण भाव से देश के लिए अपना सब कुछ न्यौछावर कर देते है.

जो देश के लिए हमेशा तैयार रहे वो शहीद होकर भी अमर है. जो देश के लिए मरने के लिए एक बार भी नहीं सोचते है. उन्हें देशभक्त कहा जाता है. आज देश में देश के लिए जीवन अर्पण करने वाले सैनिको को सम्मान नहीं दिया जाता है.

एक राजनेता को भगवान् मानते है, वही हमारी सुरक्षा के लिए दिन रात खड़े रहने वाले सैनिको को अपमानित करते है. आए दिन सैनिको को अपमानित करने वाली वीडियोस सामने आती है. जिससे देश में सैनिको के प्रति भावना और प्रेम का पता चलता है.

आज के इस पावन पर्व पर पधारे सभी मेहमानों का सादर धन्यवाद.. तथा आप सभी से आग्रह है, कि हमेशा राष्ट्रीय प्रतीक तथा राष्ट्रीयता के रक्षको का सम्मान करें. तथा देशभक्ति का भाव बनाए रखे. जय हिन्द वंदेमातरम्...

Kargil Victor Day Speech 2022

 नमस्कार आप सभी विराजमान देशभक्तों का हमारे आदरणीय सैनिक गण और प्यारे देशवासियों आप सभी ने आज के इस कार्यक्रम को आकर इसे सुन्दर बना दिया. इसलिए आप सभी द्वारा हमें अपना समय देने के लिए धन्यवाद.

जैसा कि पूर्व से विधित है, आज हम कारगिल विजय दिवस का उत्सव मनाने के लिए आज यहाँ एकत्रित हुए है. आज ही के दिन देश के वीर जाबांजो ने अपने बलिदान देकर कारगिल का युद्ध जीता था.

भारतीय सैनिको को हमेशा से ही बहादुर कहा जाता रहा है, जिसका एक नमूना भारतीय सैनिको ने कारगिल युद्ध में दिखाया तथा ऊंचाई पर जमे सैनिको से लड़कर खदेड़ दिया.

ये दिवस देश के लिए एक राष्ट्रीय पर्व है. इस दिन हम सभी भारतीयो को अपने देश के सैनिको पर गर्व होता है. इस दिन को मानाने का उद्देश्य देश के लिए अपना बलिदान देने वाले सैनिको को सम्मान देना है.

एक सैनिक देश के लिए तथा हम सब की सुरक्षा के लिए अपनों को छोड़कर बॉर्डर पर अपनी जान हथेली में रखकर ह हमारी रक्षा करते है. इसलिए हम सभी का दायित्व बनता है, कि हम उनका सम्मान करें. तथा उन्हें सपोर्ट करें.

सेना में जाना एक नौकरी नहीं सेवा करने का एक सुनहरा अवसर होता है. इसलिए मेरा आप सभी से निवेदन है, कि सैनिक बनकर देश के लिए सेवा दें. क्योकि देश की सुरक्षा ही सैनिक है.

इस दिवस पर आए सभी देशभक्तों का पुन धन्यवाद आप हमेशा सैनिको के सम्मान में इसी प्रकार खड़े रहे जिससे हमें देश के लिए ओर बेहतर आपके लिए ओर बेहतर करना का अवसर मिले. जय हिन्द वन्दे मातरम्..

ये भी पढ़े
प्रिय दर्शको उम्मीद करता हूँ, आज का हमारा लेख कारगिल विजय दिवस पर भाषण Kargil Vijay Diwas Speech In Hindi आपको पसंद आया होगा, यदि लेख अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.