100- 200 Words Hindi Essays, Notes, Articles, Debates, Paragraphs & Speech

भारत पर निबंध Essay on India in Hindi

 भारत पर  निबंध Essay on India in Hindi

संसार मे सबसे प्रसिद्ध देश भारत है। हमारा भारत एशिया महाद्वीप के दक्षिण मे स्थित मे एक उपमहाद्वीप के रूप मे विद्यमान है। भारत जनसंख्या की दृष्टि से दूसरे स्थान पर है। तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से सांतवे स्थान पर है। भारत के  दक्षिण मे महासागर,पूर्व मे बंगाल की खाड़ी तथा पश्चिम मे अरब सागर स्थित है। भारत के उत्तर मे हिमालय पर्वत है। जो कि विश्व का सबसे बड़ा पर्वत है। भारत मे 22 भाषाएँ बोली जाती है। भारत एक लोकतान्त्रिक देश है।

निबंध  (1000 शब्द) 

परिचय 
हमारे देश का नाम भारत सूर्यवंशी राजा भरत के नाम से पड़ा था। भारत एक विशाल देश है। भारत का क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किलोमीटर है। जो कि विश्व मे सांतवे स्थान पर है। भारत कि राज्य भाषा हिन्दी है। जो कि ज़्यादातर राज्यों मे बोली जाने वाली भाषा है। भारत मे 28 राज्य तथा 9 केंद्रशासित प्रदेश है। भारत का सबसे बड़ा राज्य राजस्थान तथा सबसे छोटा राज्य गोवा है। भारत एक लोकतान्त्रिक देश होने के नाते भारत मे लोगो द्वारा मत दिये जाते है। सभी वयस्क को मताधिकार प्राप्त है। सभी के मत को समान रूप से माना जाता है।

मै एक भारतवाशी हूँ। मै मेरे देश से मै बहुत प्यार करता हूँ। भारत का प्रत्येक व्यक्ति ईमानदार और सत्यपथी है। हमारे देश मे कई भाषाएँ बोली जाती है। पर हिन्दी हमारे देश की मातृभाषा है। ज़्यादातर लोग इसी का प्रयोग करते है। संसार मे सबसे ज्यादा वैज्ञानिको ने जन्म हमारे भारत की पवित्र भूमि पर लिया है।

 भारत की भूमि का दर्शन करने लोग विदेशो से यहाँ आते है। तथा भारत के लोगो का अनुसरण करते है। इसे सनातन धर्म कहते है। भारत मे कई दर्शनीय स्थान है। भारत शिव, पार्वती, श्री राम, कृष्ण, हनुमान, बुद्ध, महात्मा गाँधी, स्वामी विवेकानंद,अब्दुल कलाम, चन्द्रशेखर आजाद, भगत सिंह और कबीर जैसे कई अनगिनत महापुरुषों की मातृभूमि है।  

भारत त्योहारो का देश 

भारत मे समय-समय पर त्योहार बड़ी धूम-धाम के साथ मनाये जाते है। इसलिए भारत को त्योहारो का देश भी कहते है। भारत मे लोग त्योहार एक साथ मिलकर मानते है। भारत की इस भूमि पर कई त्योहार मनाये जाते है। जैसे- दीपावली, होली, रक्षाबंधन, दशहरा, कृष्णजन्माष्टमी,तेजा दशमी,और महाशिवरात्रि आदि मनाये जाते है। 

भारत का धर्म 
भारत का कोई निश्चित धर्म नहीं है। भारत मे कई धर्मो के लोग रहते है। जिसमे- हिन्दू, मुस्लिम,सिक्ख, ईसाई बोद्ध धर्म के लोग रहते है। परंतु भारत मे सबसे ज्यादा हिन्दू रहते है। ये एक सनातन धर्म है। ये सबसे प्राचीन धर्म है। माना जाता है। कि हमारे देश का नाम ज्यादा हिन्दुओ कि वजह से हिंदुस्तान रखा गया था। जिसका अर्थ होता है। हिन्दुओ का स्थान। हिन्दुओ को सबसे पवित्र माना जाता है। 

भारत की अर्थव्यवस्था

मेरा देश भारत है। इस पर मुझे गर्व है। हमारे देश की अर्थव्यवस्था विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। जो कि वर्तमान मे बहुत तेजी से प्रगति कर रही है। भारत क्षेत्रफल की दृष्टि से सांतवे स्थान पर है। तथा जनसख्या की दृष्टि से चीन के बाद दूसरे स्थान पर है। जनसंख्या में इसका दूसरा स्थान है। जो कि विश्व मे 2.4 प्रतिशत है। 

भारत का सविंधान 
हमारे देश का सर्वोच्च विधान सविंधान है। सविंधान सभा की प्रथम बैठक दिसंबर 1946 को हुई थी। भारतीय सविधान पर 26 नवंबर 1949 को हस्ताक्षर किए गए। इसी दिन प्रत्येक वर्ष को सविंधान दिवस के रूप मे मनाया जाता है। इसे 26 जनवरी 1950 को भारत मे लागू कर दिया गया था। इस दिन को हम हर वर्ष गणतन्त्र दिवस  के रूप मे मनाते है। सविंधान सभा मे 299 सदस्य थे। जिसमे अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद को बनाया गया था। भीमरा आम्बेडकर को सविंधान का निर्माता कहा जाता है।भारत का सविंधान लिखित तथा सबसे बड़ा सविंधान है। भारत के सविंधान पूर्ण होने मे 2 वर्ष 11 माह 18 दिन का समय लगा। सविंधानम को वर्तमान मे 395 अनुच्छेद जो 22 भागों तथा 8 अनुसूचियां मे विभक्त है। जो कि निर्माण के समय 470 अनुच्छेद, तथा 12 अनुसूचियां हैं और ये 25 भागों मे विभक्त था। 

निष्कर्ष 
भारत मेरा देश है। मै भारत का निवासी हूँ। इस पर मुझे गर्व है। मेरा देश सबसे ज्यादा तेजी से प्रगति कर रहा है। भारत एक विकासशील देश है। परंतु हम सभी को मिलकर हमारे देश शीघ्र ही विकसित देश बनाना है।