100- 200 Words Hindi Essays 2022, Notes, Articles, Debates, Paragraphs Speech Short Nibandh Wikipedia Pdf Download, 10 line

भारत पर निबंध Essay on India in Hindi

भारत पर  निबंध Essay on India in Hindi नमस्कार दोस्तों आज हम वीरो की भूमि ऋषि मुनियों की भूमि तथा आधुनिक भारत नाम से विश्व में अपनी कला संस्कृति और रीती- रिवाजो के लिए प्रसिद्ध है. आज हम भारत के बारे मे पढेंगे.

भारत पर  निबंध Essay on India in Hindi

भारत पर  निबंध Essay on India in Hindi
हमारा भारत देश दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है, साथ ही दुनिया का सबसे बड़ा संविधान होने का खिताब भी भारत को ही प्राप्त है, क्योंकि भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा संविधान है।

भारत एक लोकतांत्रिक देश होने के नाते हमारे भारत में हर 5 साल में प्रधानमंत्री के पद का चुनाव होता है, वही हर 5 साल में राज्यों के चीफ मिनिस्टर के पद का भी चुनाव होता है।

भारत के बारे में 10 वाक्य 10 Lines on India in Hindi

1) भारत दुनिया के सबसे प्रसिद्ध देशो में से एक है. भारत विश्वगुरु कहलाता है.भारत उतरी पूर्वी गौलार्द में एशिया महाद्वीप के दक्षिण के स्थित एक मनमोहक देश है. भारत को त्योहारों का देश कहा जाता है. 
2) भारत का इतिहास गौरवान्वित करने वाला रहा है. यहाँ रामायण, पुराण और वेदों की रचना की गई थी इसके प्राचीन नामो में आर्यावर्त व्रह्मावर्त और हिन्दुस्थान प्रमुख है.

3) मेरा भारत महान शिव, पार्वती, राम, हनुमान, बुद्ध, महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद, रविंद्रनाथ टैगोर, भगत सिंह और चंद्रशेखर जैसे वीरो की जन्म भूमि है.
4) भारत अपने इतिहास, संस्कृति और यहाँ के दर्शनीय स्थलों के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध है. विश्व के सात अजूबो में से ताजमहल शामिल है. जो आगरा में स्थित है. देश में वर्तमान में 28 राज्य और 8 केन्द्रशासित प्रदेश है.

5) भारत एक लोकतान्त्रिक देश है. यहाँ हर पांच साल से चुनाव होता है. और एक सरकार बनाई जाती है. जो सविंधान के अनुसार देश का संचालन करता है.
6) देश का सर्वोच्च विधान ही सविंधान है, जो लचीला कठोर और दंडनीय है. जिसमे बदलाव भी किया जा सकता है. इसमे बदलाव के लिए अनुच्छेद 368 का प्रावधान किया गया है.

7) क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत विश्व का सांतवा सबसे बड़ा देश है. इसका क्षेत्रफल 3287263 वर्ग किलोमीटर है. जो विश्व के क्षेत्रफल का २.४ प्रतिशत भाग है. जनसख्या की दृष्टि से चीन के बाद दूसरा सबसे बड़ा देश है. भारत की जनसख्या विश्व की जनसख्या का 17 प्रतिशत है.
8) भारत की राजधानी नई दिल्ली है. पहले कोलकाता हुआ करती थी. हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है. और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है. दिल्ली के लाल किले पर इन राष्ट्रीय दिवस का आयोजन किया जाता है. और सेना द्वारा परेड निकाली जाती है.

9) 15 अगस्त 1947 को देश को ब्रिटिश सरकार से स्वतंत्रता मिली थी. इस दिन से हर वर्ष हम 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते है. 26 नवम्बर 1949 को सविंधान को स्वीकृति दी गई. इस दिन को हर साल सविंधान दिवस के रूप में मनाते है. 26 जनवरी 1950 को सविंधान लागू किया गया इस दिन गणतंत्र दिवस मनाते है. सविंधान निर्माण में 2 वर्ष 11 माह 18 दिन लगे थे.

10) भारत की मुद्रा रुपया है, यहाँ का राष्ट्रीय पक्षी मोर है. राष्ट्रीय भाषा का दर्जा नहीं दिया गया है. हिंदी को राजकीय भाषा का दर्जा प्राप्त है. सविंधान में कुल 22 भाषाओ को मान्यता दी गई. भारत धर्मनिरपेक्ष देश है. जहा सभी धर्मो को एक समान दर्जा दिया गया है.

देश का कोई राष्ट्रीय खेल नहीं है, पर हॉकी को माना जाता है. क्योकि यह देश खेलो को एक समान महत्व देता है. भारत एक कृषि प्रधान देश है. यहाँ के अधिकांश लोग गाँवों में रहकर कृषि करते है.

भारत का राष्ट्रीय गान जन गण मन और राष्ट्रीय गीत वन्दे मातरम है. राष्ट्रीय ध्वज तिंरगा है. राष्ट्रीय पशु टाइगर है. राष्ट्रीय नदी गंगा है, जो यहाँ की पवित्र नदी है. राष्ट्रीय पुष्प कमल है.

Essay on India in Hindi

भारत एक विशाल जनसंख्या वाला देश है जिसकी वर्तमान में जनसंख्या तकरीबन 1 अरब के पार पहुंच चुकी है और यह लगातार बढ़ती ही जा रही है। चीन के बाद भारत की जनसंख्या विश्व में सबसे अधिक है.

दुनिया के विकासशील देशों के बारे में बात करें तो विकासशील देशों की लिस्ट में भारत का नाम अग्रणी है, क्योंकि भारत काफी तेजी से हर फील्ड में विकास कर रहा है।

सेटेलाइट की फील्ड में भी भारत ने काफी अच्छा काम किया है। यहां तक कि दुनिया के कई देश इंडियन स्पेस एजेंसी से ही अपने सैटेलाइट लॉन्च करवा रहे हैं। भारतीय रेलवे नेटवर्क को भी दुनिया की सबसे बड़ी रेलवे नेटवर्क माना जाता है। 

भारत का राष्ट्रीय पशु बाघ है वहीं भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोर है। इसके अलावा भारत का राष्ट्रीय फूल कमल का फूल है। भारत में 27 से भी ज्यादा राज्य है जिसमें से कुछ केंद्र शासित प्रदेश भी हैं।

भारत की राजधानी नई दिल्ली है और भारत की आर्थिक राजधानी महाराष्ट्र राज्य में स्थित मुंबई शहर को कहा जाता है। गुजरात, महाराष्ट्र, दिल्ली, पंजाब, कोलकाता, बेंगलुरु, चेन्नई यह सब भारत के प्रमुख शहरों की लिस्ट में आते हैं।

मेरा देश भारत पर निबंध Essay on My Country India in Hindi

भारत देवो की भूमि अर्पण की भूमि समर्पण की भूमि है. ये वही भारत है, जो कभी सोने की चिडिया कहलाता था. विश्वगुरु कहलाता था. आज भी इस देश की महिमा का कोई पार नहीं है.

संसार मे सबसे प्रसिद्ध देश भारत है। हमारा भारत एशिया महाद्वीप के दक्षिण मे स्थित मे एक उपमहाद्वीप के रूप मे विद्यमान है। भारत जनसंख्या की दृष्टि से दूसरे स्थान पर है। तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से सांतवे स्थान पर है।

भारत के  दक्षिण मे महासागर,पूर्व मे बंगाल की खाड़ी तथा पश्चिम मे अरब सागर स्थित है। भारत के उत्तर मे हिमालय पर्वत है। जो कि विश्व का सबसे बड़ा पर्वत है। भारत मे 22 भाषाएँ बोली जाती है। भारत एक लोकतान्त्रिक देश है।

हमारे देश का नाम भारत सूर्यवंशी राजा भरत के नाम से पड़ा था। भारत एक विशाल देश है। भारत का क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किलोमीटर है। जो कि विश्व मे सांतवे स्थान पर है।

भारत कि राज्य भाषा हिन्दी है। जो कि ज़्यादातर राज्यों मे बोली जाने वाली भाषा है। भारत मे 28 राज्य तथा 9 केंद्रशासित प्रदेश है।

भारत का सबसे बड़ा राज्य राजस्थान तथा सबसे छोटा राज्य गोवा है। भारत एक लोकतान्त्रिक देश होने के नाते भारत मे लोगो द्वारा मत दिये जाते है। सभी वयस्क को मताधिकार प्राप्त है। सभी के मत को समान रूप से माना जाता है।

मै एक भारतवाशी हूँ। मै मेरे देश से मै बहुत प्यार करता हूँ। भारत का प्रत्येक व्यक्ति ईमानदार और सत्यपथी है। हमारे देश मे कई भाषाएँ बोली जाती है। पर हिन्दी हमारे देश की मातृभाषा है। ज़्यादातर लोग इसी का प्रयोग करते है।

संसार मे सबसे ज्यादा वैज्ञानिको ने जन्म हमारे भारत की पवित्र भूमि पर लिया है। भारत की भूमि का दर्शन करने लोग विदेशो से यहाँ आते है। तथा भारत के लोगो का अनुसरण करते है। इसे सनातन धर्म कहते है। भारत मे कई दर्शनीय स्थान है।

भारत शिव, पार्वती, श्री राम, कृष्ण, हनुमान, बुद्ध, महात्मा गाँधी, स्वामी विवेकानंद,अब्दुल कलाम, चन्द्रशेखर आजाद, भगत सिंह और कबीर जैसे कई अनगिनत महापुरुषों की मातृभूमि है।  

भारत त्योहारो का देश 

भारत मे समय-समय पर त्योहार बड़ी धूम-धाम के साथ मनाये जाते है। इसलिए भारत को त्योहारो का देश भी कहते है। भारत मे लोग त्योहार एक साथ मिलकर मानते है।

भारत की इस भूमि पर कई त्योहार मनाये जाते है। जैसे- दीपावली, होली, रक्षाबंधन, दशहरा, कृष्णजन्माष्टमी,तेजा दशमी,और महाशिवरात्रि आदि मनाये जाते है। 

धर्मनिरपेक्ष भारत

भारत का कोई निश्चित धर्म नहीं है। भारत मे कई धर्मो के लोग रहते है। जिसमे- हिन्दू, मुस्लिम,सिक्ख, ईसाई बोद्ध धर्म के लोग रहते है। परंतु भारत मे सबसे ज्यादा हिन्दू रहते है। भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है.

ये एक सनातन धर्म है। ये सबसे प्राचीन धर्म है। माना जाता है। कि हमारे देश का नाम ज्यादा हिन्दुओ कि वजह से हिंदुस्तान रखा गया था। जिसका अर्थ होता है। हिन्दुओ का स्थान। हिन्दुओ को सबसे पवित्र माना जाता है।

इस देश में अनेक धर्म होने के बाद भी एकता की मिसाल को देखा जा सकता है. ये हमारा प्यारा भारत भाईचारे की प्रवृति का है. यहाँ विविधता के बाद भी एकता है.

भारत की अर्थव्यवस्था

मेरा देश भारत है। इस पर मुझे गर्व है। हमारे देश की अर्थव्यवस्था विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। जो कि वर्तमान मे बहुत तेजी से प्रगति कर रही है।

भारत क्षेत्रफल की दृष्टि से सांतवे स्थान पर है। तथा जनसख्या की दृष्टि से चीन के बाद दूसरे स्थान पर है। जनसंख्या में इसका दूसरा स्थान है। जो कि विश्व मे 2.4 प्रतिशत है। 

भारत का सविंधान 

हमारे देश का सर्वोच्च विधान सविंधान है। सविंधान सभा की प्रथम बैठक दिसंबर 1946 को हुई थी। भारतीय सविधान पर 26 नवंबर 1949 को हस्ताक्षर किए गए।

इसी दिन प्रत्येक वर्ष को सविंधान दिवस के रूप मे मनाया जाता है। इसे 26 जनवरी 1950 को भारत मे लागू कर दिया गया था। इस दिन को हम हर वर्ष गणतन्त्र दिवस  के रूप मे मनाते है।

सविंधान सभा मे 299 सदस्य थे। जिसमे अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद को बनाया गया था। भीमरा आम्बेडकर को सविंधान का निर्माता कहा जाता है।भारत का सविंधान लिखित तथा सबसे बड़ा सविंधान है।

भारत के सविंधान पूर्ण होने मे 2 वर्ष 11 माह 18 दिन का समय लगा। सविंधानम को वर्तमान मे 395 अनुच्छेद जो 22 भागों तथा 8 अनुसूचियां मे विभक्त है। जो कि निर्माण के समय 470 अनुच्छेद, तथा 12 अनुसूचियां हैं और ये 25 भागों मे विभक्त था।

भारत का सविंधान विश्व का सबसे बड़ा लिखित सविंधान है. हमारे सविंधान में सभी को स्वतंत्रता, समानता दी गई है. देश का आज भी नेतृत्व इन्ही कानूनों के आधार पर होता है. यानी देश का सर्वोच्च कानून सविंधान है.

निष्कर्ष 

मै भारत भारती हूँ, इस पर मुझे गर्व है। मेरा देश सबसे ज्यादा तेजी से प्रगति कर रहा है। भारत एक विकासशील देश है। परंतु हम सभी को मिलकर हमारे देश शीघ्र ही विकसित देश बनाना है। भारत मेरा आन बान शान है.

ये भी पढ़ें
उम्मीद करता हूँ, दोस्तो आज का हमारा लेख भारत पर  निबंध Essay on India in Hindi पसंद आया होगा, आज हमारा लेख आपको कैसा लगा? कमेन्ट मे अपनी राय दें। तथा इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर करें।